फेक न्यूज रोकने के लिए गूगल पत्रकारों को वेरिफिकेशन, फैक्ट चेकिंग की ट्रेनिंग देगा

शुक्रवार, 22 फ़रवरी 2019 (19:19 IST)
नई दिल्ली। फेक न्यूज रोकने के लिए गूगल द्वारा देश के 30 शहरों में अंग्रेजी, हिन्दी, मलयालम समेत 10 भाषाओं के पत्रकारों को ट्रेनिंग दी जाएगी। ट्रेनिंग प्रोग्राम 26 फरवरी से शुरू होगा और 6 अप्रैल तक चलेगा। इस दौरान पत्रकारों को वेरिफिकेशन और फैक्ट चेकिंग का प्रशिक्षण दिया जाएगा।
 
गूगल ने घोषणा की है कि आगामी 40 दिनों तक वह देश के विभिन्न शहरों में पत्रकारों को ऑनलाइन वेरिफिकेशन, फैक्ट चेकिंग, डिजिटल सेफ्टी, सिक्यूरिटी, यूट्यूब और डेटा विजुअलाइजेशन की ट्रेनिंग देगा। इसके लिए गूगल न्यूज इनीशिएटिव ने डेटालीड्स और इंटरन्यूज के साथ साझेदारी की है।
 
इस दौरान देश के 30 शहरों में अंग्रेजी, हिन्दी, मलयालम, बांग्ला, कन्नड़, गुजराती, उड़िया, तमिल, तेलुगु और मराठी भाषा के पत्रकारों को ट्रेनिंग दी जाएगी। इस ट्रेनिंग प्रोग्राम के लिए मीडिया संस्थानों से जुड़े पत्रकारों के साथ-साथ फ्रीलांसिंग करने वाले भी आवेदन कर सकते हैं। ट्रेनिंग की शुरुआत दिल्ली एनसीआर से होगी। गूगल 2019 में 10 हजार पत्रकारों को ट्रेनिंग देने की योजना बना रहा है।
 
उल्लेखनीय है कि 2016 से गूगल ने 40 शहरों में 200 न्यूज कंपनियों में काम करने वाले 13 हजार से अधिक भारतीय पत्रकारों को ट्रेनिंग दी है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व सीईओ चंदा कोचर मुश्किल में, लुकआउट नोटिस जारी