Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कांग्रेस तक पहुंची हाईप्रोफाइल आयकर छापे की आंच, कोषाध्यक्ष अहमद पटेल पर हवाला से बीस करोड़ जुटाने का आरोप

webdunia

विकास सिंह

मंगलवार, 9 अप्रैल 2019 (10:43 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश के कमलनाथ के करीबियों पर पड़े आयकर छापे में जांच की आंच अब कांग्रेस पार्टी और उसके दिग्गज नेता और कोषाध्यक्ष अहमद पटेल तक पहुंचती दिखाई दे रही है। अहमद पटेल पर हवाला के जरिए पार्टी फंड के लिए बीस करोड़ रुपए जुटाने का आरोप है।

आयकर विभाग ने छापे के बाद जो पहला आधिकारिक बयान जारी किया है, उसमें कहा गया है कि दिल्ली में हवाला के जरिए एक राजनीतिक दल के पार्टी मुख्यालय को बीस करोड़ रुपए पहुंचाए गए। इसे हाल में ही पार्टी के एक वरिष्ठ पदाधिकारी के तुगलक रोड स्थित घर से भेजा गया था।

इस बीच बताया जा रहा कि सोमवार देर रात कांग्रेस नेता अहमद पटेल आयकर के छापे के जद में आए मोइन के घर पहुंचे। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक मोइन कांग्रेस दफ्तर में अकाउंटेट का काम करता है। इस बीच सोशल मीडिया पर मोइन के अहमद पटेल की एक तस्वीर भी वायरल हो रही है, जिसकी पुष्टि वेबदुनिया नहीं करता है। मोइन खान के घर पर भी आयकर का छापा पड़ा था।

वहीं आयकर छापे को लेकर बीजेपी अब कांग्रेस पर हमलावर हो गई है। बीजेपी प्रवक्ता हितेष वाजपेयी कहते हैं कि आयकर विभाग के बयान के बाद साफ हो गया है कि कैसे हवाला के जरिए पैसा भोपाल के श्यामला हिल्स से दिल्ली के दस जनपथ तक पहुंचता था। हितेष वाजपेयी कहते हैं कि जिस तरह कांग्रेस नेता अहमद पटेल और उसके सहयोगियों के नाम सामने आए है, उससे साफ है कि कांग्रेस को हवाला के जरिए बड़ी रकम पहुंचाई गए।
 
वाजपेयी हवाला के जरिए चार हजार करोड़ से अधिक के लेनदेन का आरोप भी मुख्यमंत्री कमलनाथ और कांग्रेस पर लगाते हैं। वहीं बीजेपी अब इस पूरे मुद्दें को चुनावी मुद्दा भी बनाने की तैयारी कर रही है।

छापे में करोड़ों के बेहिसाबी कैश का खुलासा - इससे पहले मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के ओएसडी प्रवीण कक्कड़ और करीबी आरके मिगलानी सहित कई अन्य लोगों के छापे में करोड़ों की बेनामी संपत्ति का खुलासा हुआ है। आयकर विभाग ने पूरी कार्रवाई को लेकर जो पहला आधिकारिक बयान जारी किया उसमें 281 करोड़ रुपए के बेनामी कैश रैकेट का खुलासा होना बताया गया है। वहीं ये रकम राजनीति, व्यापार और सरकारी सेवाओं से जुड़े लोगों के जरिए इकट्ठा होने का भी पता चला है।

इसके साथ ही छापे में चौदह करोड़ साठ लाख नकद, 252 बोतल महंगी शराब, कुछ हथियार भी बरामद किए गए हैं। इसके साथ ही आयकर विभाग की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि दिल्ली में छापे की कार्रवाई में 230 करोड़ के अघोषित लेनदेन, फर्जी बिलिंग के जरिए 242 करोड़ रुपए के लेनदेन के दस्तावेज, टैक्स हैवन में अस्सी कंपनियों का भी पता चला है। इसके साथ ही दिल्ली के पॉश इलाके में कई बेनामी संपत्ति के दस्तावेज बरामद किए हैं।

आयकर विभाग की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि चार राज्यों में 52 ठिकानों पर पूरी कार्रवाई हुई। भोपाल, इंदौर, नोएडा और गोवा में हुई इस कार्रवाई में विभाग के तीन सौ अफसर शामिल थे।
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

लोकसभा चुनाव 2019 के 10 जबरदस्त योद्धा, इन हाईप्रोफाइल सीटों पर अटकी हैं इनकी सांसें...