डाक बैंक ने शुरू की आधार आधारित भुगतान सेवा

मंगलवार, 10 सितम्बर 2019 (14:19 IST)
नई दिल्ली। संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सोमवार को इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) की आधार आधारित पेमेंट सिस्टम सर्विसेज (AEPS) की शुरुआत की घोषणा की। इसके तहत किसी भी बैंक का खाताधारक नकदी की निकासी के साथ ही, बैलेंस की जानकारी भी ले सकता है। इसके लिए बैंक खाते का आधार से जुड़ा होना जरूरी है। प्रसाद ने इस पहल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपने को साकार करने वाला बताया।

संचार मंत्री ने कहा, एईपीएस सर्विसेज की शुरुआत के साथ आईपीपीबी (IPPB) किसी भी बैंक के ग्राहक को इंटरऑपरेबल बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराने वाला देश का सबसे बड़ा प्लेटफॉर्म बन गया है। एईपीएस सर्विसेज के तहत किसी भी बैंक का खाताधारक नकदी की निकासी के साथ ही बैलेंस की जानकारी भी ले सकता है।

इस सेवा का लाभ लेने के लिए आपको फिंगरप्रिंट के जरिए इस बात की पुष्टि करनी होगी कि आपका बैंक खाता आधार से जुड़ा हुआ है। एनपीसीआई के जरिए आईपीपीबी (IPPB) देश के सुदूर इलाकों के लोगों को बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध करा रहा है।

संचार मंत्री प्रसाद ने ईपीपीबी (IPPB) के परिचालन के एक साल पूरा होने पर इस सौगात की घोषणा की। इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक भारत सरकार के डाक विभाग और संचार मंत्रालय के अधीन एक सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है, जिसमें उसकी 100 फीसदी हिस्सेदारी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल सितंबर में आईपीपीबी (IPPB) की शुरुआत के मौके पर कहा था कि इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की शुरुआत होने के बाद डाकिया डाक लाएगा और डाकिया आपके घर पर बैंक भी लाएगा। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख चीन-पाक कोरिडोर पर भारत ने दिखाया आईना, हमारा है यह क्षेत्र