Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

महंगाई चरम पर, मोदी का ध्यान राज्य सरकारों को गिराने पर : आतिशी

हमें फॉलो करें webdunia
गुरुवार, 25 अगस्त 2022 (23:42 IST)
नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) की विधायक आतिशी ने बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर देश में महंगाई जैसी बड़ी समस्याओं का समाधान नहीं करने और राज्य सरकारों को गिराने पर ध्यान केंद्रित करने का आरोप लगाया।
 
‘आप’ का आरोप है कि उसके दिल्ली के 40 विधायकों को भाजपा ने पाला बदलने के लिए 20-20 करोड़ रुपए की पेशकश की है जबकि सभी 62 विधायक पार्टी के साथ हैं।
 
‘आप’ के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि मुख्यमंत्री एवं पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल के घर पर बुलाई गई बैठक में 53 विधायकों ने शिरकत की जिनमें केजरीवाल भी शामिल हैं। वहीं सात विधायक दिल्ली से बाहर हैं, जबकि मंत्री सत्येंद्र जैन जेल में हैं। उन्होंने कहा कि ओखला से विधायक अमानतुल्ला खान फोन के जरिए बैठक में शामिल हुए।
 
विधायकों की बैठक के बाद आतिशी ने कहा कि कई झूठे आरोप लगाकर और झूठे मामले बनाकर दिल्ली की ‘आप’ सरकार को गिराने की कोशिश की जा रही है।
 
उन्होंने कहा कि भारत संकट के दौर से गुजर रहा है। देश के सामने कई बड़ी समस्याएं हैं। देश के सामने सबसे बड़ा संकट महंगाई का है। आज महंगाई चरम पर है। आज गरीबी अपने चरम पर है। इतनी बेरोजगारी इस देश ने कभी नहीं देखी।
 
उन्होंने कहा कि लेकिन यह बहुत दुख की बात है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास बड़ी समस्याओं को हल करने का समय नहीं है। इसके बजाय, प्रधानमंत्री की पूरी ऊर्जा और मेहनत इस बात पर केंद्रित रहती है कि राज्य सरकारों को कैसे गिराया जाए।
 
आतिशी ने कहा कि विभिन्न राज्य सरकारों को गिराने के लिए विभिन्न केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल किया जा रहा है और विपक्षी नेताओं पर झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं।
 
उन्होंने दावा किया कि ‘फिर केन्द्रीय सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की छापेमारी होती है और भाजपा उन नेताओं को पैसे देती है जिन पर एजेंसियां आरोप लगाती हैं। दिल्ली में भी पिछले कुछ दिन से ऐसा ही हो रहा है। कई तरह के झूठे आरोप लगाकर और झूठे मुकदमे बनाकर दिल्ली में ‘आप’ की सरकार गिराने की कोशिश की जा रही है।

ऑपरेशन लोटस विफल हो : बैठक के बाद केजरीवाल के नेतृत्व में ‘आप’ विधायक राजघाट में महात्मा गांधी की समाधि पर पहुंचे और भाजपा पर ‘ऑपरेशन लोटस’ चलाने का आरोप लगाते हुए इसके विफल होने की प्रार्थना की। बैठक से पहले सूत्रों ने दावा किया था कि 12 विधायकों से कुछ दिनों से संपर्क नहीं हो पा रहा था। उन्होंने उम्मीद जताई थी कि ये विधायक केजरीवाल के आवास पर बुलाई गई बैठक में हिस्सा लेंगे।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

अदालतों में लंबित हैं CBI की जांच वाले भ्रष्टाचार के करीब 6700 मामले