Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कश्मीर के पंपोर में CRPF टीम पर आतंकी हमला, 2 जवान शहीद, 3 घायल

webdunia

सुरेश एस डुग्गर

सोमवार, 5 अक्टूबर 2020 (14:45 IST)
जम्मू। आतंकियों ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) अर्था केरिपुब की रोड ओपनिंग पार्टी (आरओपी) पर हमला कर दिया जिसमें 5 जवान घायल हो गए और इलाज के दौरान 2 की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार सोमवार दिन में आतंकियों ने पंपोर के बाहरी इलाके से सटे तंगन बाईपास पर आरओपी की 110वीं बटालियन पर हमला किया था। इस हमले में 5 जवान गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इन्हें अस्पताल ले जाया गया लेकिन चोट अधिक लगने से 2 की मौत हो गई।
webdunia
हमला करने के बाद आतंकी घटना स्थल से भागने में सफल रहे। हालांकि सुरक्षाबलों ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों की आवाजाही बंद कर फरार आतंकियों की तलाश के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया हुआ है। हमले में 2 से 3 आतंकियों के शामिल होने की बात कही जा रही है। घायल जवानों को अस्पताल भर्ती कराया गया है। उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है।
ALSO READ: बड़ा खुलासा, 'जस्टिस फॉर हाथरस' नाम से बनी थी वेबसाइट, विदेश से फंडिंग
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आतंकियों ने यह हमला पंपोर के कंडीजाल पुल के पास पुलिस और केरिपुब के संयुक्त दल पर किया। बताया जा रहा है कि इस पुल से रोजाना सैन्य वाहन गुजरते हैं। उनकी सुरक्षा को यकीनी बनाने के लिए ही केरिपुब व पुलिस के संयुक्त दल की यहां तैनात की गई है। आतंकी नाके के पास ही कहीं छिपे हुए थे। उन्होंने मौका पाकर सुरक्षाबलों पर अचानक से हमला बोल दिया।
 
हमले में 2 से 3 आतंकियों के शामिल होने की आशंका जताई जा रही है। दल पर अचानक से की गई गोलीबारी में दल में शामिल केरिपुब के 5 जवान घायल हो गए। आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर करीब 20 मिनट तक लगातार गोलीबारी की। इससे पहले की अन्य सुरक्षाकर्मी हमलावरों पर पलटवार करते, आतंकी वहां से फरार हो गए।
 
घायल केरिपुब जवानों को अस्पताल पहुंचाया गया जहां 2 जवानों ने जख्मों का ताव न सहते हुए इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। 3 अन्य जवानों का इलाज अस्पताल में चल रहा है। शहीद हुए जवानों की पहचान 110वीं बटालियन के धीरेंद्र कुमार और शैलेंद्र कुमार के तौर पर की गई है।
 
सूचना मिलते ही पुलिस की एसओजी और सेना की 50 आरआर बटालियन के जवानों का दल मौके पर पहुंच गया और उन्होंने राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों की आवाजाही बंद कर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया। सुरक्षाबलों का कहना है कि मुठभेड़ के दौरान आम आदमी गोलीबारी का शिकार न हों, इसके लिए हाईवे पर वाहनों की आवाजाही बंद की गई है। फिलहाल पांपोर के कंडीजाल पुल के आसपास के इलाकों में सर्च ऑपरेशन चल रहा है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

100 समर्थकों के साथ हाथरस जाना चाहते थे उदित राज, पुलिस ने दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर रोका