Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

j&k : पुलवामा में आतंकियों ने घर में घुसकर की SPO फैयाज अहमद और उनकी पत्नी की हत्या, बेटी गंभीर रूप से घायल

webdunia
सोमवार, 28 जून 2021 (00:33 IST)
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में रविवार को आतंकवादियों ने एक विशेष पुलिस अधिकारी (sop) की गोली मारकर हत्या कर दी और उसकी पत्नी तथा बेटी को घायल कर दिया।
अधिकारियों ने यह जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि आतंकवादी रात करीब 11 बजे पुलवामा के अवंतीपोरा इलाके के हरिपरिगाम में एसपीओ फैयाज अहमद के घर में घुस गए और परिवार पर गोलियां चला दीं। उन्होंने बताया कि परिवार के सदस्यों को अस्पताल ले जाया गया, जहां एसपीओ ने दम तोड़ दिया, जबकि उनकी पत्नी और बेटी का इलाज चल रहा है।
 
जम्मू में दो आतंकी गिरफ्‍तार : जम्मू-कश्मीर पुलिस ने रविवार को लश्कर-ए-तैयबा के एक अग्रिम समूह 'रेसिस्टेंस फोर्स' से जुड़े एक कथित आतंकवादी को गिरफ्तार किया और उसके पास से 5.5 किलोग्राम आईईडी जब्त किया है।
 
जम्मू के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक चंदन कोहली ने गिरफ्तार आरोपी की पहचान रामबन के जैनहाल-बनिहाल निवासी नदीम-उल-हक के रूप में की और कहा कि उसकी गिरफ्तारी से एक बड़ी त्रासदी टल गई है। एसएसपी ने बताया कि हक पाकिस्तान और दक्षिण कश्मीर के शोपियां में अपने आकाओं के संपर्क में था।
 
उन्होंने बताया कि हक को लश्कर-ए-तैयबा के अग्रिम समूह रेसिस्टेंस फोर्स ने किसी भीड़भाड़ वाली जगह पर आईईडी लगाकर विस्फोट करने का काम दिया था। एसएसपी ने बताया कि हक को पुलिस टीम ने बरमिनी रोड पर नियमित जांच के दौरान पकड़ा था, जहां वह पीले रंग का बैग लेकर बठिंडी की ओर जा रहा था।
 
उन्होंने बताया कि पुलिस दल को देखकर हक ने भागने की कोशिश की जिससे उस पर शक हुआ और तेजी से पीछा कर उसे पकड़ लिया गया। कोहली ने बताया कि हक के बैग की तलाशी में आईईडी बरामद हुआ और उसे गिरफ्तार कर लिया गया। हक के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम और विस्फोटक पदार्थ अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।
 
गिरफ्तारी को 'बड़ी सफलता' करार देते हुए एसएसपी ने कहा कि जांच अभी शुरुआती चरण में है और जांच आगे बढ़ने पर और गिरफ्तारियां होने की संभावना है। उन्होंने बताया कि पिछले कई दिनों से पुलिस टीम की चौकियों और कई स्थानों पर कड़ी सुरक्षा और निगरानी के कारण यह सफलता हासिल हुई है। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

महाराष्ट्र में आज आए कोरोना के 9974 नए मामले, 143 लोगों की हुई मौत