जियो के ग्राहक बढ़े, वोडाफोन-आइडिया को लगा बड़ा झटका

गुरुवार, 21 फ़रवरी 2019 (07:51 IST)
नई दिल्ली। देश में दूरसंचार ग्राहकों की संख्या दिसंबर, 2018 में मामूली बढ़कर 119.7 करोड़ पर पहुंच गई। दिसंबर में सिर्फ रिलायंस जियो और सार्वजनिक क्षेत्र की बीएसएनएल ही ऐसी कंपनियां रहीं जिनके ग्राहकों की संख्या में इजाफा हुआ। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। 
 
रिपोर्ट के अनुसार दिसंबर में रिलायंस जियो ने 85.64 लाख नए ग्राहक बनाए और उसके कुल कनेक्शनों की संख्या 28 करोड़ पर पहुंच गई। वहीं बीएसएनएल के कनेक्शनों की संख्या 5.56 लाख बढ़कर 11.4 करोड़ पर पहुंच गई। 
 
बीएसएनएल के ग्राहकों की संख्या में ऐसे समय बढ़ोतरी हुई है जबकि सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी से भारी नुकसान की वजह से परिचालन बंद करने सहित अन्य विकल्प तलाशने को कहा है। 
 
ट्राई की दिसंबर महीने की रिपोर्ट में कहा गया है कि दिसंबर, 2018 के अंत तक देश में फोन ग्राहकों की संख्या बढ़कर 119.78 करोड़ पर पहुंच गई जो नवंबर, 2018 के अंत तक 119.37 करोड़ थी। इस तरह मासिक आधार पर ग्राहकों की संख्या में 0.35 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई। माह के अंत तक मोबाइल कनेक्शनों की संख्या 117.6 करोड़ हो गई। 
 
समीक्षाधीन महीने में वोडाफोन आइडिया के ग्राहकों की संख्या सबसे अधिक 23.3 लाख घटी। इसके बावजूद यह 42 करोड़ ग्राहकों के साथ देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी बनी हुई। माह के दौरान भारती एयरटेल के ग्राहकों की संख्या 15 लाख घटकर 34 करोड़ रह गई। 
 
हालांकि, एयरटेल ने अपने तीसरी तिमाही के वित्तीय प्रदर्शन में कम राजस्व योगदान वाले 5.7 करोड़ ग्राहकों को गिनना बंद कर दिया है। इस तरह एयरटेल के ग्राहकों की प्रभावी संख्या दिसंबर के अंत तक 28.42 करोड़ रही। 
 
टाटा टेलीसर्विसेज के मोबाइल ग्राहकों की संख्या में 10 लाख की कमी आई। सार्वजनिक क्षेत्र की एमटीएनएल के ग्राहकों का आंकड़ा 3,963 घटकर 46,409 रह गया। रिलायंस कम्युनिकेशंस के ग्राहकों की संख्या 1,929 घटकर 22,138 रह गई। 
 
दिसंबर में लैंडलाइन कनेक्शनों की संख्या घटकर 2.18 करोड़ पर आ गई। नवंबर में यह आंकड़ा 2.19 करोड़ था। बीएसएनएल के लैंडलाइन कनेक्शनों की संख्या में सबसे अधिक गिरावट आई। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख ICJ में पाक वकील ने किया अभद्र भाषा का इस्तेमाल, नाराज भारत ने इस तरह किया पलटवार