कोलकाता में चल रहा है 'हाईवोल्टेज' ड्रामा : धरने पर बैठीं ममता बनर्जी

सोमवार, 4 फ़रवरी 2019 (01:25 IST)
कोलकाता। रविवार को देर शाम से कोलकाता में शुरु हुआ 'हाईवोल्टेज' ड्रामा रात तक जारी है। करोड़ों के शारदा चिटफंड घोटालों के मामलों के आरोपी कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार से पूछताछ करने पहुंची सीबीआई की टीम के 5 अधिकारियों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। पुलिस कमिश्नर के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कवज बनकर खड़ी हो गई और वे मेट्रो चैनल के सामने धरने पर बैठ गईं।
 
रात में जब ममता बनर्जी धरने पर बैठीं तो उनके साथ कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार भी धरना स्थल पर बैठे हुए थे। सोमवार को बंगाल में बजट सत्र है और ममता ने कहा कि मैं बजट सत्र में हिस्सा नहीं लूंगी और मोबाइल के जरिए ही कार्यवाही में शामिल रहूंगी।
 
ममता के धरने पर बैठते ही उनके शुभचिंतकों ने उन्हें फोन करने शुरू कर दिए। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने फोन करके ममता से बात की। इससे पूर्व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्‍वीट करके सीबीआई अधिकारियों के पुलिस आयुक्त के निवास पर पहुंचने की आलोचना की। केजरीवाल ने भी ममता से फोन पर बातचीत की। 
 
कोलकाता पुलिस का कहना था कि सीबीआई के 5 अफसर समेत 40 कर्मी बिना किसी सर्च वारंट के पुलिस आयुक्त से पूछताछ करने पहुंचे थे। यही कारण है कि हमें अधिकारियों को हिरासत में लेना पड़ा लेकिन कुछ घंटों के बाद ही हिरासत में लिए अधिकारियों को रिहा कर दिया गया।
ममता बनर्जी ने कहा सीबीआई मोदी और शाह के इशारे पर काम कर रही है। यह छापा भी इसी कड़ी का हिस्सा था। सीबीआई ने मेरे घर काम करने वालों से भी पूछताछ की और मुझे अपमानित किया गया। जब तक यह मामला सुलझ नहीं जाता, तब तक मैं अपना धरना जारी रखूंगी। ममता के धरना देने के बाद राजनीति भी गरमा गई है। लालू यादव और तेजस्वी यादव भी सोशल मीडिया के जरिए सीबीआई पर हमला बोल रहे हैं।

रात 8 बजे से 1 बजे तक ममता ने सिर्फ 1 कप चाय पी : मेट्रो स्ट्रीट पर मोदी सरकार के खिलाफ अनिश्तिचतकालीन धरने पर बैठी ममता बनर्जी ने रविवार रात 8 बजे से 1 बजे के बीच केवल 1 कप चाय पी। रात 1 बजे बाद वे कुछ देर के लिए उठीं और 20 मिनट बाद वापस मंच पर आकर बैठ गई। कुछ घंटों पूर्व ममता ने इस धरने को 'सत्यागृह' का नाम दिया है। मंच के आसपास हजारों की संख्या में समर्थक मौजूद हैं। धरमतल्ला में जहां यह सत्यागृह शुरु हुआ है, वहां पर बंगाल का पूरा सत्तापक्ष मौजूद है।
 
सीबीआई कर सकती है पुलिस आयुक्त को गिरफ्तार : सीबीआई के संयुक्त निदेशक पंकज श्रीवास्तव ने इस मामले में कहा कि यदि पुलिस आयुक्त राजीव कुमार चिटफंड घोटालों की जांच में सहयोग नहीं करते तो उन्हें गिरफ्तार कर सकती है। सुप्रीम कोर्ट ने 2014 में घोटालों की जांच करने का आदेश दिया था।
 
पुलिस आयुक्त के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं : सीबीआई के अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव ने कहा कि हमारे पास पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के खिलाफ पर्याप्त सबूत थे। इसी सबूतों के आधार पर सीबीआई की टीम उनसे पूछताछ करने पहुंची थी। राजीव कुमार पर चिटफंड घोटालों के सबूत नष्ट करने का आरोप था। जब चिटफंड घोटालों की जांच के लिए एसआईटी गठित की थी, तब इसके प्रमुख राजीव कुमार ही थे। 

ममता को राहुल का समर्थन : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को फोन किया और उनका समर्थन किया। राहुल ने कहा कि समूचा विपक्ष एकजुट है और फासीवादी ताकतों को हराएगा। उन्होंने कहा कि बंगाल का घटनाक्रम भारत की संस्थाओं पर प्रधानमंत्री और भाजपा के लगातार हमलों का हिस्सा हैं। 
 
सुप्रीम कोर्ट में सुबह 10.30 बजे मामला रखा जाएगा : देर रात खबर मिली है कि सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता सोमवार को सुबह 10.30 बजे सीबीआई का पक्ष सुप्रीम कोर्ट में रखेंगे। सुप्रीम कोर्ट में पश्चिम बंगाल के सरकारी वकील भी मौजूद रह सकते हैं। 

धरना स्थल पर कैबिनेट बैठक : पश्चिम बंगाल विधानसभा में सोमवार को दोपहर 2.30 बजे बजट पेश किया जाना है लेकिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी विधानसभा में उपस्थित नहीं रहेंगी। धरना स्थल पर ही दोपहर 1 बजे कैबिनेट की बैठक होगी। इसके लिए मेट्रो चैनल पर एक कमरा तैयार किया जा रहा है। ममता ने कहा कि वे बजट सत्र में फोन से ही विधानसभा को संबोधित करेंगी।

पूरे बंगाल में तृणमूल कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन : मोदी सरकार के खिलाफ ममता बनर्जी के धरने पर बैठते ही तृणमूल कांग्रेस ने पूरे बंगाल में विरोध प्रदर्शन शुरु कर दिया। रात में ही एनएच 2 और एनएच 60 पर जाम लगा दिया। 
 
नए मंच से नई लड़ाई का मंचन :  जैसे-जैसे रात गहरा रही थी, ममता बनर्जी के धरना स्थल पर सरगर्मियां भी तेज हो गई थी। यहां पर नया मंच बनाने की शुरुआत हो चुकी थी। जनता के बीच ममता की इस नई लड़ाई का मंचन कब तक जारी रहेगा, कुछ कहा नहीं जा सकता। जनता के दरबार में ममता की यह लड़ाई कानूनी और राजनैतिक भी होगी। ममता बनर्जी का धरना रविवार को रात 8 बजे से शुरु हुआ है। 

भाजपा सोमवार को करेगी प्रेस कांन्फ्रेंस : इस पूरे घटनाक्रम पर कोलकाता में सोमवार को भारतीय जनता पार्टी प्रेस कॉन्फ्रेंस करने जा रही है। इस कांन्फ्रेंस में कई बड़े मंत्रियों के भी हिस्सा लेने की संभावना है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख भारत ने विश्व कप रजत विजेता आयरलैंड को 3-0 से हराया