Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Weather Prediction : शीतलहर से जनजीवन प्रभावित, कई जगहों पर तापमान शून्‍य से नीचे

webdunia
शनिवार, 18 जनवरी 2020 (22:53 IST)
नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में शनिवार सुबह घना कोहरा छाया रहा और न्यूनतम तापमान 8.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। कश्मीर में दिन के मौसम में सुधार आया है लेकिन बर्फीली हवाओं से निजात नहीं मिल पाई। शीतलहर से जनजीवन प्रभावित है। यहां सभी जगहों पर रात का तापमान शून्य से नीचे चल रहा है। 21 और 22 जनवरी को कई हिस्सों में बारिश और बर्फबारी हो सकती है।

दिल्‍ली में आज सुबह घना कोहरा छाया रहा और न्यूनतम तापमान 8.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पालम में सुबह 5 बजकर 30 मिनट पर दृश्यता 50 मीटर थी। उत्तर भारत की ओर जाने वाली करीब 20 ट्रेनें विलंब से चल रही हैं। दिल्ली में सुबह वायु गुणवत्ता सूचकांक 240 दर्ज किया गया, जो खराब की श्रेणी में आता है।

राजस्थान के पश्चिमी हिस्से विशेषकर गंगानगर, हनुमानगढ़, चुरु और सीकर में अब भी अच्छी खासी सर्दी पड़ रही है, हालांकि बाकी हिस्सों में न्यूनतम तापमान बढ़ा है। बीती रात 3.7 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान के साथ गंगानगर सबसे सर्द रहा। चुरु में न्यूनतम तापमान 3.9 डिग्री सेल्सियस, बीकानेर में 6.2 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया। राजधानी जयपुर में रात का न्यूनतम तापमान 9.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
webdunia

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में शनिवार को ताजा बर्फबारी हुई। राज्य के मनाली, कुफरी और डलहौजी में न्यूनतम तापमान जमाव बिंदु के पास पहुंचने से पर्यटकों को कंपकंपाती ठंड का सामना करना पड़ रहा है। पहाड़ी राज्य के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश भी दर्ज की गई। 20 से 23 जनवरी के बीच राज्य के ऊंची और मध्यम पहाड़ी वाले क्षेत्रों तथा मैदानी और छोटी पहाड़ियों वाले इलाकों में बारिश और बर्फबारी का पूर्वानुमान जताया गया है।

जम्मू-कश्मीर के कई हिस्सों में मौसम साफ होने पर तापमान में सुधार आया है। कश्मीर के अधिकतर हिस्सों में शीतलहर जारी है। यहां सभी जगहों पर रात का तापमान शून्य से नीचे चल रहा है। जम्मू कश्मीर के पास बना पश्चिमी विक्षोभ अब कमजोर हो गया है।
webdunia

उत्तर प्रदेश के उत्तरी भागों पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र अभी भी बना हुआ है। इस सिस्टम से मध्य प्रदेश होते हुए महाराष्ट्र तक एक ट्रफ सक्रिय है। एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पूर्वी मध्य प्रदेश और इससे सटे छत्तीसगढ़ के भागों पर दिखाई दे रहा है, जबकि एक अन्य चक्रवाती सिस्टम पश्चिमी असम पर बना हुआ है। तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, लक्षद्वीप, बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल में कुछ स्थानों पर बारिश या गरज के साथ बूंदाबांदी होने के आसार बने हुए हैं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

यशवंत सिन्हा बोले, केंद्र सरकार दिवालिया होने के कगार पर