महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की पहली अग्निपरीक्षा आज, कांग्रेस ने रखी नई मांग

विकास सिंह

शनिवार, 30 नवंबर 2019 (08:08 IST)
महाराष्ट्र में ठाकरे सरकार की पहली अग्निपरीक्षा आज होने जा रही है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकर सदन में दोपहर 2 बजे विश्वासमत प्राप्त करेंगे। विश्वास मत की प्रक्रिया पूरी करने के लिए विधानसभा की 2 दिन की विशेष बैठक बुलाई गई है। दो दिन की इस विशेष बैठक में सरकार के विश्वासमत प्राप्त करने के साथ ही विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव, नेता प्रतिपक्ष का चुनाव भी होगा।

शिवेसना, एनसीपी और कांग्रेस के गठबंधन वाली सरकार जिसके भविष्य को लेकर अभी से विरोधी दल सवाल उठा रहे हैंं उसके लिए सदन में विश्वास मत हासिल करना भी एक अग्निपरीक्षा से गुजरने जैसा होगा।

राज्यपाल से उद्धव सरकार को 3 दिसंबर से पहले सदन में बहुमत हासिल करने का वक्त दिया था। ऐसा माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे विश्वासमत हासिल करने के बाद जल्द ही मंत्रिमंडल का विस्तार का गठबंधन में शामिल सभी विधायकों को संतुष्ट करना चाह रहे हैंं।

अगर विधानसभा के फ्लोर के संख्या समीकरण को देखे तो 288 विधानसभा में सरकार को बहुमत हासिल करने के लिए 145 सदस्यों क समर्थन चाहिए, जिसमें शिवसेना के विधायकों की संख्या 56, एनसीपी के विधायकों की संखाय 54 और काग्रेस के विधायकों की संख्या 44 है।

इस तरह महाराष्ट्र में सत्ता में काबिज महाविकास अघाड़ी गठबंधन के कुल विधायकों की सख्या 154 पहुंच जाती है और उसके कई निर्दलीय और छोटी पार्टियों का समर्थन भी मिला हुआ है। सरकार गठन से पहले तीन दलों ने मुंबई के एक निजी होटल में जो शक्ति प्रदर्शन किया था उसमें 162 विधायकों के आपने साथ होने का दावा किया था। दोपहर दो बजे सदन में सरकार की ओर से विश्वासमत का प्रस्ताव पेश किया जाएगा जिसपर प्रोटेम स्पीकर दिलीप वालसे पाटिल वोटिंग कराएंगे। 
 
विधानसभा में फ्लोर टेस्ट से पहले गठबंधन में विरोध के स्वर भी सुनाई देने लगे है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक सरकार में शामिल कांग्रेस ने पहले से तय फॉर्मूले के विपरीत अब सरकार में डिप्टी सीएम की मांग कर दी है जबकि सरकार गठन से पहले तय हुआ था कि डिप्टी सीएम का पद एनसीपी के खाते में और विधानसभा अध्यक्ष का पद कांग्रेस के पास रहेगा।

इसके साथ ही सरकार में शिवेसना-एनसीपी के 15-15 और कांग्रेस के 13 मंत्री रहेंगे। कांग्रेस की डिप्टी सीएम की मांग को लेकर जब एनसीपी के नेता अजित पवार से सवाल पूछा गया तो उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि प्रदेश में अगला डिप्टी सीएम राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का ही होगा।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Weather update : इस साल दिसंबर से फरवरी तक सर्दियों में मौसम रहेगा गर्म