ममता बनर्जी को नहीं विश्‍वास, मांगे एयर स्ट्राइक के सबूत, मोदी से पूछा- कितने आतंकी मारे?

शुक्रवार, 1 मार्च 2019 (11:19 IST)
कोलकाता। पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक पर पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी को संभवत: विश्‍वास नहीं हो रहा है, तभी उन्होंने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर सवाल उठाने के बाद एयर स्ट्राइक के सबूत मांगे हैं। ममता बनर्जी ने कहा है कि पाकिस्तान पर एयर स्ट्राइक के बाद प्रधानमंत्री ने कोई सर्वदलीय बैठक नहीं बुलाई। उन्होंने सरकार से ऑपरेशन की जानकारी साझा करने के लिए कहा है।
 
एयर स्ट्राइक को लेकर तृणमूल कांग्रेस की मुखिया ममता बनर्जी ने नरेंद्र मोदी सरकार से जवाब मांगा है। उन्होंने कहा, विपक्ष होने के नाते हम ऑपरेशन और एयर स्ट्राइक की पूरी जानकारी चाहते हैं। सरकार बताए कि कहां बम गिराए गए, कितने लोग उसमें मारे गए?
 
ये सवाल करते हुए ममता बनर्जी ने अंतरराष्ट्रीय मीडिया रिपोर्ट्स का हवाला दिया। उन्होंने बताया, मैं न्यूयॉर्क टाइम्स पढ़ रही थी और उसमें लिखा था कि इस ऑपरेशन में कोई नहीं मारा गया और कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में एक मौत की बात कही गई है। इसलिए हम इसकी पूरी जानकारी चाहते हैं।
 
उल्लेखनीय है कि हाल ही में तीनों सेना के प्रमुखों ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि हमारे पास एयर स्ट्राइक के सबूत हैं, लेकिन इन सबूतों को‍ दिखाया है या नहीं, यह निर्णय सरकार लेगी। 
 
गौरतलब है कि जम्मू और कश्मीर के पुलवामा में बीते 14 फरवरी को जैश के आत्मघाती आतंकी ने सीआरपीएफ के काफिले को निशाना बनाया था, जिसमें 40 जवान शहीद हो गए थे। मसूद अजहर के आतंकी संगठन की इस करतूत का जवाब देने के लिए 26 फरवरी की देर रात भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान की सीमा में घुसकर आसमान से जैश के आतंकी कैंपों को निशाना बनाया था। इस एयर स्ट्राइक ने पाकिस्तान में हलचल मचा दी और देश में तमाम राजनीतिक दलों ने भारतीय वायुसेना के पराक्रम को सलाम किया।
 
विदेश मंत्रालय ने अपनी आधिकारिक प्रेस वार्ता में मौत का कोई आंकड़ा नहीं दिया, लेकिन मंत्रालय की तरफ से ये जरूर कहा गया कि जैश के कैंप पर जो एयर स्ट्राइक की गई है, उसमें आतंकी समूह के कमांडरों समेत बड़ी तादाद में आतंकियों को मारा गया। हालांकि पाकिस्तान ने इस एयर स्ट्राइक से किसी भी प्रकार का नुकसान होने का दावा नहीं किया। (एजेंसी)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख पाकिस्तान का चिल्लाना हुआ बेअसर, सुषमा स्वराज OIC की बैठक में शामिल होने के लिए रवाना