मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद गोवा में सियासी संकट, कौन बनेगा उत्तराधिकारी

सोमवार, 18 मार्च 2019 (08:20 IST)
पणजी। गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का रविवार को दु:खद निधन हो गया। इसके बाद ही उनके उत्तराधिकारी के लिए बैठकों का दौर शुरू हुआ। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने रविवार रात विधायकों के साथ 6 घंटे तक बैठक की। बैठक में विश्वजीत राणे और प्रमोद सावंत के नाम पर चर्चा हुई। बैठक के बाद भी कोई नतीजा नहीं निकल सका।
 
भाजपा ने गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद राज्य में उनके उत्तराधिकारी के बारे में चर्चा शुरू कर दी है। भाजपा विधायकों ने यहां विधायक दल की बैठक की। इसमें केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी शामिल थे। गडकरी भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के निर्देश पर पणजी पहुंचे।
 
सूत्रों के अनुसार गोवा फॉरवर्ड पार्टी के नेता और पर्रिकर की सरकार में नगर नियोजन एवं कृषि मंत्री विजय सरदेसाई, दो अन्य पार्टी के नेता और निर्दलीय विधायक रोहन खोंटे तथा गोविंद गोडे ने गडकरी से मुलाकात की। इनके अलावा एमजीपी के नेता सुधीन धावालीकर और उसके दो विधायकों ने भी केंद्रीय मंत्री से मुलाकात की है।
 
कांग्रेस ने किया दावा : इससे पहले कांग्रेस ने गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा को पत्र लिखकर दावा किया था कि पर्रिकर की सरकार के सहयोगियों ने मनोहर पर्रिकर के नाम पर भाजपा सरकार को समर्थन दिया था, लेकिन उनके निधन के बाद भाजपा के पास अब कोई सहयोगी नहीं है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख आज शाम 5 बजे होगा मनोहर पर्रिकर का अंतिम संस्कार, गोवा में 7 दिन का राजकीय शोक