Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कौन है मिशा जिसने दरगाह में कव्‍वाली की धुन पर जिम्नास्टिक्‍स कर खड़ा कर दिया विवाद, टि‍क्‍की और इंस्‍टाग्राम पर हैं लाखों फॉलोअर्स

हमें फॉलो करें webdunia
शुक्रवार, 14 जनवरी 2022 (12:53 IST)
अजमेर की ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में जिम्‍नास्‍ट‍िक करती एक लड़की का वीडि‍यो वायरल हो रहा है। 15 सेकंड की इस रील के बारे में सोशल मीडि‍या में जमकर चर्चा हो रही है। इसे लेकर अब तो वि‍वाद भी शुरू हो गया है।

बुर्का पहने इस लड़की का वीडियो वायरल होने के बाद दरगाह कमेटी ने इसकी शिकायत थाने में की है और लड़की पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

आखि‍र क्‍या है मामला?
दरअसल, मिशा नाम की एक लड़की ने 15 सेकेंड की रील बनाई थी। इसमें वह काले कपड़े में बॉलीवुड गाने पर जिम्नास्टिक्स करते हुए दिख रही है। इसका वीडियो को लड़की ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अपलोड किया है। वीडियो जब दरगाह कमेटी के पदाधिकारियों तक पहुंचा तो उन्होंने इस पर नाराजगी जताई।

मीडि‍या रिपोर्ट के मुताबिक गुरुवार देर रात दरगाह कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान के निर्देश पर सहायक नाजिम ने दरगाह थाने में शिकायत भेजी। इसमें बताया कि लड़की ने TIKKI एप्लिकेशन पर बने मिशा ऑफिशियल अकाउंट पर यह वीडियो अपलोड किया है। वीडियो सामने आने के बाद दरगाह से जुडे लोगों ने नाराजगी जाहिर की है।

कमेटी ने दरगाह थाने में शिकायत देकर बताया कि 15 सेकंड के वीडियो में लड़की जामा मस्जिद के शाही घाट वाली तरफ से आस्ताना शरीफ को देखते हुए कव्वाली की धुन पर जिम्नास्टिक्स करती दिख रही है। कमेटी का कहना है कि वीडियो में गुंबद तरफ लड़की का पैर गया है। इससे दरगाह की आस्था को ठेस लगी है। धार्मिक भावनाओं को भड़काने और दरगाह की गरिमा को ठेस पहुंचाने पर कार्रवाई की जाए।

TIKKI सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर मिशा की ऑफिशियल आईडी पर 1 लाख 57 हजार फॉलोअर्स है। वहीं इंस्टाग्राम आईडी पर 3 लाख 70 हजार फॉलोअर्स है। लड़की के इन अकाउंट पर जिम्नास्टिक्स के कई वीडियो भी हैं। मिशा ने अजमेर के अलावा जयपुर शहर के टूरिस्ट प्लेस पर भी जिम्नास्टिक्स करते हुए के कई वीडियो अपलोड किए हैं, जिस पर उन्हें सोशल मीडिया पर सैकड़ों लाइक्स मिलते रहे हैं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

मध्यप्रदेश में 12वीं तक के स्कूल 31 जनवरी तक बंद, भोपाल और इंदौर हाई रिस्क जोन में