रिलायंस बनी भारत की लाभ कमाने वाली सबसे बड़ी कंपनी, रिलायंस AGM के मुख्य बिंदु

सोमवार, 12 अगस्त 2019 (10:32 IST)
मुंबई। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने कंपनी की 42वीं सालाना आम बैठक (AGM) को संबोधित करते हुए कहा ‍कि भारत की लाभ कमाने वाली सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस बनी। रिलायंस AGM में मुकेश अंबानी के भाषण के मुख्य अंश : 
 
-जियो की तीसरी वर्षगांठ पर JIO की गीगा फाइबर सर्विस 5 सितंबर को लांच होगी। 
- रिलायंस जियो दुनिया में दूसरा बड़ा टेलिकॉम ऑपरेटर बन गया है।
- जियो फाइबर पर 100 एमबीपीएस (मेगा बिट प्रति सेकेंड) से 1,000 एमबीपीएस तक इंटरनेट गति उपलब्ध होगी। इसका मूल्य 700 रुपए से 10,000 रुपए मासिक तक होगा।
- जियो फाइबर फिक्स्ड लाइन से देशभर में कहीं भी फोन कॉल करना आजीवन मुफ्त होगा।
- हम हर महीने 1 करोड़ नए कस्टमर्स जोड़ रहे हैं।
- हम कनेक्टिविटी के 4 इंजन शुरू कर रहे हैं।
- जियो होम ब्रॉडबैंड के लिए हमें 1,600 कस्बों से 15 मिलियन रजिस्ट्रेशंस मिले।
- जियो गीगाफाइबर एक साल में पूरे देश में पहुंचेगा।
- जियो गीगाफाइबर 50 लाख घरों में पहुंच चुका है।
- 1 अरब घरों को जियो इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT) से कनेक्ट करने का लक्ष्य।
- अगले 12 महीने में जियो फाइबर का काम पूरा हो जाएगा।
- रिलायंस जियो का सेट अप बॉक्स पेश।
-रिलायंस का विदेश में सबसे बड़ा करार। पेट्रोलियम के क्षेत्र में सऊदी कंपनी अरामको के साथ करार। 
-अरामको में रिलायंस 75 अरब डॉलर का निवेश करेगी। 
-अरामको रिलायंस की 20 फीसदी हिस्सेदारी लेगी। 
-अरामको तेल और केमिलकल के क्षेत्र में हिस्सा लेगी।
- 49 % हिस्सेदारी बेचने के बदले रिलायंस को ब्रिटिश पेट्रोलियम से 7000 करोड़ रुपए मिलेंगे। 
- जियो 340 मिलियन उपभोक्ता हुए। 
- निजी और सार्वजनिक क्षेत्र में रिलायंस भारत की लाभ कमाने वाली सबसे बड़ी कंपनी बनी।
-जियो के निवेश चक्र पूरा हो गया है। 
- रिलायंस ने सभी क्षेत्रों में अच्छा काम किया है। चाहे वह आइल क्षेत्र हो या जियो।
- हम नए विकास इंजनों को ‍भी विकसित कर रहे हैं। 
- बैठक मुंबई के बिरला मातुश्री सभागार में सोमवार सुबह 11 बजे से शुरू हुई।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख अंतरिक्ष कार्यक्रम के जनक महान वैज्ञानिक विक्रम साराभाई के बारे में 10 खास बातें...