भारत के 'हिटलर' हैं मोदी, खतरे में है संविधान, मल्लिकार्जुन खड़गे का तीखा हमला

सोमवार, 5 नवंबर 2018 (11:32 IST)
मुंबई। लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने रविवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत के साथ वही करना चाहते हैं जो तानाशाह एडोल्फ हिटलर ने जर्मनी के साथ किया था। कर्नाटक से सांसद यहां बांद्रा में मुंबई कांग्रेस की ओर से आयोजित 'संविधान बचाव परिषद' में बोल रहे थे।


खड़गे ने कहा कि भाजपा के शासन में देश की स्थिति बिगड़ती जा रही है, लेकिन कांग्रेस, आरएसएस, भाजपा और मोदी को उसी तरह से संविधान को नष्ट नहीं करने देगी जैसे अन्य संस्थानों को तबाह किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि संविधान का संबंध किसी खास जाति, धर्म या समुदाय से नहीं है, बल्कि समान रूप से हर एक भारतीय से है।

उन्होंने सवाल किया कि संसदीय लोकतंत्र में स्वतंत्रता के किस अधिकार का भाजपा ने सम्मान किया है? महाराष्ट्र मामलों के कांग्रेस के महासचिव प्रभारी खड़गे ने कहा कि भाजपा बीते चार साल में सही दिशा में चार कदम नहीं चल सकी। उनके पास कांग्रेस पर उंगली उठाने और हमसे यह पूछने का कोई अधिकार नहीं है कि हमने पिछले 70 साल में क्या किया।

लोकसभा सदस्य ने दावा किया कि जब से भाजपा सत्ता में आई है तब से इसने अभिव्यक्ति की स्वंत्रता को नष्ट कर दिया है और लगातार प्रेस पर अंकुश लगा रही है। उन्होंने दावा किया कि भाजपा देश में तानाशाही लाना चाह रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत के साथ वही करना चाहते हैं जो एडोल्फ हिटलर ने जर्मनी के साथ किया था। संविधान खतरे में है और हमें इसे तबाह करने की भाजपा की कोशिश से लड़ने की जरूरत है।

मुंबई कांग्रेस प्रमुख संजय निरूपम ने कार्यक्रम में कहा कि देश की नींव को बनाने वाले सिद्धांतों पर लगातार हमले हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत का संविधान देश की आत्मा है जिसकी आज हत्या की जा रही है। बीते चार साल में भाजपा ने अपनी इच्छा के मुताबिक नए नियम बनाए हैं जो देश के कानून एवं व्यवस्था के अनुसार नहीं है। कांग्रेस सांसद हुसैन दलवई ने कहा कि संविधान की रक्षा करने से ही देश महफूज होगा और लोगों से अनुरोध किया कि वे इसे बचाने के लिए लड़ें। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING