पाकिस्तान को उसकी मौत मरने के लिए छोड़ दें, हमें आगे बढ़ना है : मोदी

रविवार, 31 मार्च 2019 (22:23 IST)
नई दिल्ली। तालकटोरा स्टेडियम से देश के 500 से ज्यादा स्थानों पर 'मैं भी चौकीदार हूं अभियान' की शुरुआत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान पर हमला करते हुए कहा कि भारत को दुनिया की बराबरी करनी है लेकिन देखा गया है कि हमारा ज्यादा समय पाकिस्तान की बात करते हुए बर्बाद हो रहा है। बेहतर होगा कि उसे उसकी मौत मरने के लिए छोड़ दें और हम आगे बढ़ते रहें। 
 
मोदी ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए रविवार को खुद को देश का सजग चौकीदार करार दिया और कहा कि उनके रहते जनता के पैसों पर कोई पंजा नहीं डाल सकता।

उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ उनकी सरकार ने सख्त कदम उठाया है और जिसने भी गलत काम किया है, वह बच नहीं सकता है। उनकी सरकार ने भ्रष्टाचार पर शिकंजा कसा है और उनके चौकीदार होते हुए देश को कोई नहीं लूट सकता है।
उन्होंने कहा कि देश की जनता इस चौकीदार को पसंद करती है। इस चौकीदार पर देश की जनता का भरोसा है इसलिए यह चौकीदार कोई भ्रष्टाचार नहीं होने देगा और किसी भ्रष्टाचारी का पंजा देश की जनता के पैसे पर नहीं पड़ने देगा। उन्होंने कहा कि समाज के लिए काम करने वाला हर व्यक्ति चौकीदार होता है और चौकीदार किसी चौखट से बंधा नहीं होता है।
 
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की जनता को राजा-महाराजाओं की जरूरत नहीं होती है बल्कि एक चौकीदार ही चाहिए और वे चौकीदार का दायित्व निभाने का प्रयास कर रहे हैं। देश के 125 करोड़ लोगों ने इस चौकीदार को भरपूर प्यार दिया है और अब देश की जनता चाहती है कि यही चौकीदार फिर देश चलाए।
 
मोदी ने कहा कि देश की जनता ने उन्हें चौकीदार बनाया है। वर्ष 2014 में वे नए-नए थे और तब तक उनकी पहचान सिर्फ एक मुख्यमंत्री के रूप में ही थी। लेकिन उस दौरान जिस तरह से उनके आलोचकों ने उनकी आलोचना की, उससे उन्हें ज्यादा लोकप्रियता मिली। उनकी इन आलोचनाओं के कारण देश में जिज्ञासा पैदा हुई थी कि आखिर यह इंसान है कौन जिसकी इतनी आलोचना हो रही है?
प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले आम चुनाव के दौरान उन्होंने लोगों से कहा था कि आप दिल्ली का दायित्व एक चौकीदार को सौंप रहे हैं। देश का सामान्य आदमी कर देता है। इस पर देश के गरीबों का हक होता है और वे इस पैसे पर कोई पंजा नहीं पड़ने देंगे और इस दायित्व का उन्होंने बखूबी निर्वहन किया है और अब देश की जनता उन्हें फिर इसी भरोसे के साथ देश चलाने की जिम्मेदारी दे रही है।
 
उन्होंने कांग्रेस पर तीखा हमला किया और कहा कि वह झूठ प्रचारित करती है लेकिन उसके झूठ की उम्र बहुत लंबी नहीं होती है। कांग्रेस का झूठ मौसमी होता है। जब दिल्ली में चुनाव चल रहे थे तो तब उन्होंने झूठा प्रचार किया था कि चर्च पर हमले हो रहे हैं, नफरत फैलाई जा रही है और जैसे ही चुनाव समाप्त हुए तो नफरत का माहौल भी समाप्त हो गया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख खुशखबर, आधार नंबर को पैन कार्ड से जोड़ने की अंतिम तिथि 6 माह और बढ़ी