Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

प्रदूषण से दिल्ली में सांसों का संकट, लगातार तीसरे दिन हालत 'गंभीर', स्वास्थ्य मंत्री ने की मास्क पहनने की अपील

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 5 नवंबर 2022 (08:27 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली-NCR में वायु गुणवत्ता लगातार तीसरे दिन भी गंभीर बनी हुई है। राष्‍ट्रीय राजधानी की हवा जहरीली होने की वजह से लोगों का घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो गया है। बढ़ते प्रदूषण की वजह से लोगों को सांस लेने में परेशानी हो रही है। इस बीच स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने लोगों से मास्क पहनने की अपील की है।
 
सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (SAFAR) के अनुसार, दिल्ली में आज सुबह औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 431 दर्ज किया गया। नोएडा (यूपी) में 529, गुरुग्राम (हरियाणा) में 478 और धीरपुर के पास 534 AQI दर्ज किया गया। 
 
दिल्ली सरकार ने उठाए यह कदम : प्रदूषण से निपटने के लिए दिल्ली में ग्रैप 4 लागू कर दिया गया है। खतरनाक प्रदूषण के स्तर और स्वास्थ्य संबंधी चेतावनियों से चिंतित दिल्ली सरकार ने प्राथमिक स्कूल बंद कर दिए हैं। उसके 50 प्रतिशत कर्मचारी घर से काम करेंगे, जबकि निजी कार्यालयों को इसका पालन करने की सलाह दी गई है। दिल्ली में सभी तरह की डीजल गाड़ियों और BS-6 के नीचे की कारों पर रोक लगा दी गई है।
 
स्वास्थ्य मंत्री ने दी मास्क पहनने की सलाह : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने अरविंद केजरीवाल पर तंज कसते हुए शुक्रवार को कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री गुजरात और हिमाचल प्रदेश में चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं, इसलिए दिल्लीवासी खुद को प्रदूषण से बचाने के लिए मास्क पहनें।

मंडाविया ने ट्वीट कर कहा, 'दिल्ली के लोगों से मास्क पहनने और वायु प्रदूषण से खुद को बचाने का आग्रह किया जाता है क्योंकि केजरीवाल-जी गुजरात और हिमाचल प्रदेश में मुफ्त 'रेवाड़ी' की बात करने और दिल्ली के करदाताओं के करोड़ों रुपए खर्च करके विज्ञापन लगाने में व्यस्त हैं।'
 
इससे पहले एम्स के पूर्व निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने भी चेतावनी देते हुए कहा था कि बच्चे, बुजुर्ग और जिनके फेफड़े और दिल कमजोर हैं, उन्हें ऐसी जगहों पर नहीं जाना चाहिए जहां प्रदूषण हो। यदि आप जाना चाहते हैं, तो दिन में जाएं जब धूप हो और मास्क पहनें। वायु प्रदूषण को हम साइलेंट किलर कह सकते हैं। 
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

हिमाचल प्रदेश चुनाव: वीरभद्र सिंह का परिवार क्या उनकी विरासत संभाल पाएगा?