Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

‘मोदी है तो मुमकिन है' के भरोसे को बनाए रखने वाले मोदी सरकार के 8 साल के 8 ऐतिहासिक फैसले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार आज अपनी सरकार के 8 साल का कार्यकाल पूरा कर रही है।

हमें फॉलो करें webdunia
webdunia

विकास सिंह

गुरुवार, 26 मई 2022 (08:30 IST)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज बतौर प्रधानमंत्री आठ साल का कार्यकाल पूरा कर रहे है। 26 मई 2014 को देश की कमान अपने हाथों में संभालने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मजबूत नेतृत्व और दृढ़ इच्छाशक्ति से ‘मोदी है तो मुमकिन है’ की एक ऐसी छवि बनाई जिसको तोड़ पाना मौजूदा दौर में विपक्ष के लिए नामुमकिन की तरह है। बतौर प्रधानमंत्री इन आठ सालों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक ग्लोबल लीडर के रूप में दुनिया में उभरे। मोदी सरकार ने अपने 8 साल के कार्यकाल में 8 बड़े फैसलों से यह भी साबित कर दिया है कि अगर मजबूत इरादे और राजनीतिक इच्छाशक्ति से काम किया जाए तो देश की राजनीति की दशा-दिशा बदल सकती है।
 
2014 में “अच्छे दिन” के वादे के साथ शुरु हुआ मोदी सरकार का सफर आज 8 सालों के बाद “आत्मनिर्भर भारत” तक पहुंच चुका है। इन आठ सालों में मोदी सरकार ने कई ऐसे फैसले किए जिन्होंने देश में नया इतिहास लिखा दिया है। 
 
 
1-अनुच्छेद 370 को हटाने का ऐतिहासिक फैसला-जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाना मोदी सरकार के आठ साल की सबसे बड़ी राजनीतिक उपलब्धि माना जाता है। 2019 में सत्ता में प्रचंड बहुमत के साथ वापसी करने के साथ नरेंद्र मोदी सरकार ने 5 अगस्त 2019 को ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाकर अपना नाम इतिहास में दर्ज करा लिया है। देश की आजादी के बाद जम्मू कश्मीर में 70 साल से चल रहे विशेष कानून को मोदी सरकार ने एक झटके में खत्म कर जम्मू कश्मीर में नया इतिहास लिखा दिया है। मोदी सरकार ने न केवल अनुच्छेद 370 को खत्म किया बल्कि राज्य को दो भागों में बांटते हुए लद्दाख को नया केंद्रशासित प्रदेश बनाकर वहां के लोगों की सालों पुरानी मांग पूरा कर दिया है।
 
इसके साथ ही मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर के बारे में  संविधान के अनुच्छेद 35 A को भी खत्म कर दिया। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को खत्म करना मोदी सरकार के 8 सालों का सबसे बड़ा और ऐतिहासिक निर्णय है। 
 
2. ट्रिपल तलाक से मुस्लिम महिलाओं को आजादी- तीन तलाक की वर्षो पुरानी कुप्रथा को खत्म करना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सोशल रिफॉर्मर के तौर पर स्थापित करने का सबसे बड़ा कदम माना जाता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल में मुस्लिम महिलाओं को सदियों पुराने कुप्रथा से आजादी दिला दी और वह मुस्लिम महिलाओं के बीच लोकप्रिय हो गए। दूसरी बार सत्ता में आते ही मोदी सरकार ने संसद के अपने पहले सत्र में इस कानून को पास कराकर 1 अगस्त 2019 को मुस्लिम महिलाओं को एक नई आजादी दे दी है। सदियों से जो मुस्लिम महिलाएं तीन तलाक के डर के साए में जीने को मजबूर थी वह अब आत्मसम्मान के साथ अपनी जिंदगी जी रही है। 
 
3-NRC और नागरिकता संसोधन कानून–प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने नागरिकता संशोधन कानून बनाकर लाखों लोगों की भारत की नागरिकता मिलने का रास्ता साफ कर दिया है। नागरिकता संशोधन कानून के तहत पाकिस्तान,बांग्लादेश और अफगानिस्तान के अल्पसंख्यकों को भारत में नागरिकता का अधिकार मिल गया। 
 
4- नोटबंदी का फैसला– देश में काले धन को खत्म करने और भष्टाचार को जड़ से उखाड़ने  के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2016 में नोटबंदी जैसा बड़ा और साससिक फैसला किया। पीएम मोदी के इस फैसले की विपक्ष ने तीखी आलोचना भी की थी।
 
5.सरकारी बैंकों का मर्जर-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के आर्थिक सुधारों में सबसे बड़ा फैसला बैंकों का मर्जर है। सरकार ने देश के 10 बड़े बैंको का 4 बैंकों में मर्जर कर दिया। सरकार के इस फैसले के बाद अब सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की संख्या 18 से घटकर 12 रह गई है। मोदी सरकार के इस फैसले को बैंकिंग सेक्टर में नए और बड़े सुधार के तौर पर देखा जा रहा है। 
 
6-एक देश,एक टैक्स GST का फैसला-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अगुवाई वाली NDA सरकार ने अपने पहले कार्यकाल में देश ने नया कर कानून जीएसटी बनाया। जीएसटी को आजादी के बाद देश का सबसे बड़ा टैक्स सुधार माना गया संसद से जीएसटी बिल पास होने के बाद देश में एक जुलाई 2017 से एक देश, एक टैक्स कानून लागू हो गया। 
 
7-देश में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नए भारत के सपने को साकार करने और आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए देश में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति लाई गई है। शिक्षा के क्षेत्र में आमूलचूल बदलाव करने वाली राष्ट्रीय शिक्षा नीति एक नए समृद्ध,शक्तिशाली और आत्मनिर्भर भारत के निर्माण का मार्ग प्रशस्त करेगी।
 
8-अयोध्या में राममंदिर का निर्माण–प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अगस्त 2020 को अयोध्या में राममंदिर का भूमिपूजन कर अपनी पार्टी भाजपा के देश की जनता से किए अपने सबसे पुराने वादे को पूरा कर दिया। देश के सबसे बड़े और पुराने और जटिल अयोध्या विवाद का हल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सत्ता में रहते हुए सुप्रीम कोर्ट से हल होना और फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का खुद अयोध्या जाकर भव्य राममंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन करना लोग आज भी मोदी सरकार के सात सालों की सबसे बड़ी उपलब्धि मानते है। 
 
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

मोदी सरकार के 8 साल: 16 दिन जश्न मनाएगी भाजपा, मंत्रियों के लिए तैयार हुआ प्लान