Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

DND पर हाईवॉल्टेज ड्रामा, जब कार्यकर्ता के लिए कवच बनीं प्रियंका गांधी

webdunia
शनिवार, 3 अक्टूबर 2020 (20:38 IST)
नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) ने उत्तरप्रदेश के हाथरस (Hathras) में पीड़िता के परिवार से मुलाकात की। यूपी पुलिस ने नेताओं सहित 5 लोगों को जाने की इजाजत दे दी, लेकिन इससे पहले डीएनडी पर एक हाईवोल्टेज ड्रामा हुआ। लाठीचार्ज के दौरान प्रियंका अपने कार्यकर्ता के लिए कवच की तरह सामने आईं। 
प्रियंका गांधी ख़ुद गाड़ी चलाकर डीएनडी पहुंचीं साथ में राहुल गांधी बैठे हुए थे। उनके पहुंचते ही ये हाईवोलटेज ड्रामा शुरू हो गया, काफ़ी कहासुनी के बाद यूपी पुलिस ने राहुल प्रियंका समेत 5 लोगों को हाथरस जाने की इजाज़त दे दी, लेकिन कुछ कार्यकर्ता नहीं माने तो यूपी पुलिस ने लाठियां भी भांजी। प्रियंका गांधी ख़ुद गाड़ी से उतरकर अपने कार्यकर्ता को बचाने आ पहुंची यहां तक पुलिसवाले की लाठी भी पकड़ ली। एक कार्यकर्ता पुलिस के लाठीचार्ज में घायल हो गया था तो प्रियंका ने तुरंत उन्होंने उसका हालचाल जाना और इलाज के लिए गाड़ी में अपने साथ बिठाया। 
पुलिस की कार्रवाई व धक्का-मुक्की में कुछ कार्यकर्ताओं को चोटें आई है वहीं कुछ पुलिसकर्मी भी जख्मी हुए हैं। अपर पुलिस आयुक्त लव कुमार ने बताया कि कांग्रेस नेताओं राहुल गांधी और प्रियंका गांधी सहित 5 लोगों को हाथरस जाने की इजाजत दी गई थी। उनकी सुरक्षा में लगी गाड़ियां भी उनके साथ थीं। डीएनडी पर हुए लाठीचार्ज के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था को काबू करने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा।
 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता व नेता पुलिस द्वारा लगाए गए बैरिकेड को तोड़कर राहुल गांधी के साथ आगे जाना चाह रहे थे। नियमों के अनुसार पुलिस ने उन्हें रोका जिस पर उन्होंने पुलिसकर्मियों के साथ धक्का-मुक्की की। पुलिस सूत्रों के अनुसार इस मामले में कांग्रेसी नेताओं के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज हो रहा है। (एजेंसियां)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

हाथरस Live Updates : राहुल और प्रियंका हाथरस पहुंचे, पीड़िता के परिवार से मुलाकात की