Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Prophet Controversy : हावड़ा में फिर प्रदर्शन, रांची में 2 लोगों की मौत, उप्र और अन्य राज्यों में प्रदर्शनकारियों पर कार्रवाई

हमें फॉलो करें webdunia
रविवार, 12 जून 2022 (00:30 IST)
रांची/कोलकाता/लखनऊ। पैगंबर मोहम्मद पर भाजपा के 2 पूर्व पदाधिकारियों की टिप्पणी को लेकर हुए हिंसक प्रदर्शन के दौरान झारखंड की राजधानी रांची में गोली लगने से 2 लोगों की मौत हो गई तथा पश्चिम बंगाल के हावड़ा में शनिवार को भी प्रदर्शन हुए। देशभर में शुक्रवार को हुए हिंसक विरोध प्रदर्शनों के बाद कई जगह अभी भी तनाव की स्थिति बनी हुई है। उप्र सहित अन्य राज्यों में प्रदर्शनकारियों पर कार्रवाई की गई। महाराष्ट्र में भी शुक्रवार को हुए विरोध प्रदर्शन के सिलसिले में कई मामले दर्ज किए गए हैं।
उप्र में 240 से ज्यादा गिरफ्तार : प्रदर्शनकारियों पर कार्रवाई के क्रम में अकेले उत्तर प्रदेश में लगभग 240 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। दिल्ली, महाराष्ट्र और अन्य राज्यों में भी मामले दर्ज किए गए हैं। हिंसा के खिलाफ हिंदू संगठनों के आह्वान पर झारखंड की राजधानी में शनिवार को बंद रखा गया। इस दौरान जिले में लगभग 2,500 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया और इंटरनेट को निलंबित रखा गया। अधिकारियों ने शुक्रवार को हुई झड़पों के बाद इंटरनेट को निलंबित कर दिया और प्रभावित जिलों में सुरक्षा कड़ी कर दी।
 
झारखंड में समिति का गठन : झारखंड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई को बताया कि राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दो सदस्यीय समिति का गठन किया है। इसमें वरिष्ठ आईएएस अधिकारी अमिताभ कौशल और अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक संजय लाटकर शामिल हैं। समिति हिंसा की जांच करेगी जिसमें दो लोगों की मौत हो गई और कम से कम 24 अन्य घायल हो गए। उन्होंने कहा कि समिति को एक सप्ताह में अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंपने को कहा गया है।
webdunia
रांची में 2 की मौत : सरकारी राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान के एक अधिकारी ने रांची में बताया कि मोहम्मद मुदस्सर कैफी (22) के सिर पर गोली लगने के निशान थे और 24 वर्षीय मोहम्मद साहिल की गर्दन पर गोली लगी थी जिनकी इलाज के दौरान मौत हो गई। ये दोनों रांची के निवासी थे। अधिकारी ने कहा कि आठ अन्य लोग गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में भर्ती हैं। रांची के उपमहानिरीक्षक अनीश गुप्ता ने कहा कि घटना की जांच के लिए एक विशेष जांच दल का भी गठन किया गया है। उन्होंने कहा, "अब तक तीन प्राथमिकी दर्ज की गई हैं। हिंसा में शामिल लोगों की गिरफ्तारी के लिए तलाशी अभियान जारी है।"
 
दिल्ली में जांच जारी : दिल्ली में पुलिस उपायुक्त (मध्य) श्वेता चौहान ने कहा कि दिल्ली पुलिस ने जामा मस्जिद के बाहर शुक्रवार को हुए प्रदर्शन के संबंध में भारतीय दंड संहिता की धारा 188 (लोक सेवक के विधिवत आदेश की अवज्ञा) के तहत मामला दर्ज किया है और आगे की जांच जारी है। 
 
हावड़ा में फिर हिंसा : पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले के पांचला बाजार इलाके में शनिवार को फिर हिंसा हुई जहां प्रदर्शनकारी पुलिस से भिड़ गए और कई घरों में आग लगा दी तथा भाजपा के एक कार्यालय में भी तोड़फोड़ की। हावड़ा जिले के कई हिस्सों में शुक्रवार को पथराव हुआ था, पुलिस वाहनों में आग लगा दी गई थी और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया था।
webdunia
13 जून तक पूरे जिले में इंटरनेट सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है और 15 जून तक उलुबेरिया, डोमजूर और पांचला जैसे कई क्षेत्रों में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। अधिकारियों ने शनिवार को मुर्शिदाबाद जिले के कुछ हिस्सों में भी इंटरनेट सेवाओं को 14 जून तक के लिए निलंबित कर दिया। पश्चिम बंगाल सरकार ने इस बीच हावड़ा जिले के शीर्ष पुलिस अधिकारियों का तबादला कर दिया। हावड़ा जिले की मौजूदा स्थिति को लेकर राज्य सचिवालय में आयोजित एक आपात बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया।
 
60 लोग गिरफ्तार : हावड़ा जिले और मुर्शिदाबाद तथा दक्षिण 24 परगना जिलों के कुछ हिस्सों में हुई हिंसा के सिलसिले में कम से कम 60 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य में दंगा भड़काने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने की बात कही है। राजनीतिक महत्वाकांक्षा रखने वाले एक मौलवी (फुरफुरा शरीफ के पीरजादा) को शनिवार को पश्चिम बंगाल बाल अधिकार संरक्षण आयोग द्वारा एक नोटिस जारी किया गया। मौलवी पर हिंसक प्रदर्शनों में बच्चों का इस्तेमाल करने का आरोप है।
 
छात्रा गिरफ्तार : पुलिस ने बताया कि मुर्शिदाबाद जिले में एक कॉलेज की छात्रा को सोशल मीडिया पर कथित तौर पर एक पोस्ट करने के लिए गिरफ्तार किया गया। यह पोस्ट अब निलंबित भाजपा पदाधिकारी द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर की गई भड़काऊ टिप्पणी का समर्थन करता है। उन्होंने कहा कि स्नातक प्रथम वर्ष की छात्रा ने शुक्रवार शाम को कथित तौर पर सोशल मीडिया पर पोस्ट किया। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि उसकी गिरफ्तारी की मांग को लेकर बेलडांगा के उस इलाके में हिंसक विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए, जहां वह रहती है। आंदोलनकारियों ने उसके घर पर हमला कर दिया। उन्होंने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने बेलडांगा पुलिस थाने पर हमला करने समेत पुलिसकर्मियों पर पथराव किया। उन्होंने कहा कि भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े।
webdunia
पुलिस अधिकारियों के तबादले : एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि दंगा, हत्या के प्रयास और सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने को लेकर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। कुछ क्षेत्रों में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू करने के अलावा, जिले में इंटरनेट को बंद कर दिया गया है। हिंसा के बाद राज्य सरकार ने हावड़ा (ग्रामीण) के पुलिस अधीक्षक और हावड़ा (शहर) के पुलिस आयुक्त का स्थानांतरण कर दिया।
 
हावड़ा बना कश्मीर : भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार को तब गिरफ्तार कर लिया गया जब वह हिंसा से प्रभावित हावड़ा जा रहे थे। उनकी गिरफ्तारी के बाद भाजपा कार्यकर्ता कोलकाता, उत्तर दिनाजपुर, कूच बिहार, बीरभूम और जलपाईगुड़ी जिलों में सड़कों पर उतर आए। मजूमदार ने कहा कि स्थिति से पता चलता है कि बंगाल तेजी से कश्मीर बन रहा है। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष हावड़ा में प्रवेश करने और उन क्षेत्रों का दौरा करने में सफल रहे जहां उनकी पार्टी के कार्यालयों पर हमला किया गया था।   
 
कश्मीरी यूट्‍यूबर गिरफ्तार : जम्मू- कश्मीर में कश्मीरी यूट्यूबर फैसल वानी को शांति भंग करने और जनता में भय पैदा करने के आरोप में तब गिरफ्तार कर लिया गया जब उसने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर निलंबित भाजपा प्रवक्ता नुपुर शर्मा का सिर काटने संबंधी वीडियो पोस्ट किया। जम्मू में चिनाब घाटी के कुछ हिस्सों में हिंसक विरोध प्रदर्शन के बाद कर्फ्यू लगा हुआ है, जबकि कुछ मुस्लिम संगठनों ने एक दिन के बंद का आह्वान किया।
 
एहतियात के तौर पर भद्रवाह और किश्तवाड़ कस्बों सहित कई इलाकों में ब्रॉडबैंड और मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद रहीं। जम्मू के पीर पांचाल क्षेत्र के राजौरी और पुंछ जिलों से मिली खबरों में कहा गया है कि वहां बंद शांतिपूर्ण रहा।
 
237 लोग गिरफ्तार : उत्तरप्रदेश पुलिस ने कहा कि उसने विभिन्न जिलों से 237 लोगों को गिरफ्तार किया है। सहारनपुर और प्रयागराज में पुलिस अधिकारियों ने कहा कि गिरफ्तार लोगों के खिलाफ कड़े राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने शनिवार को एक बयान में कहा कि गिरफ्तार लोगों में से 68 को प्रयागराज में और 50 को हाथरस में गिरफ्तार किया गया। उन्होंने कहा कि सहारनपुर में 55, अंबेडकरनगर में 28, मुरादाबाद में 25, फिरोजाबाद में आठ और अलीगढ़ में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
webdunia
योगी ने दी कड़ी चेतावनी : उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश जारी करते हुए कहा कि पिछले कुछ दिनों में विभिन्न शहरों में माहौल खराब करने की अराजक कोशिशों में शामिल रहे असामाजिक तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।’उन्होंने कहा, "सभ्य समाज में ऐसे असामाजिक लोगों के लिए कोई जगह नहीं है। किसी भी निर्दोष को परेशान नहीं किया जाना चाहिए, लेकिन एक भी दोषी को बख्शा नहीं जाना चाहिए।
 
मस्जिद और मदरसों में कैमरे लगाने की मांग : विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने मांग की कि हर मस्जिद और मदरसे में "अंदर और बाहर" उच्च गुणवत्ता के कैमरे लगाए जाने चाहिए। विहिप के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा कि देश के शांतिपूर्ण और सौहार्दपूर्ण माहौल को दूषित करने की कोशिश करने वालों को यह समझना होगा कि भारत संविधान से चलता है, न कि शरीयत से।
 
नुपूर के समर्थन में प्रज्ञा : भोपाल से भाजपा की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर नुपुर शर्मा के समर्थन में उतरीं। उन्होंने कहा कि अगर कोई हिंदू देवताओं का अपमान करता है, तो ऐसे लोगों को 'सच' कहा जाएगा। ठाकुर की टिप्पणी के बाद, मध्य प्रदेश में विपक्षी कांग्रेस ने भाजपा से इस बारे में स्पष्टीकरण मांगा। हिंसक विरोध के मद्देनजर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि उन्होंने पुलिस को राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी कदम उठाने का निर्देश दिया है।  (इनपुट भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Nagaland Firing Case : पुलिस ने मेजर समेत 30 सैनिकों के खिलाफ दायर की चार्जशीट