राहुल ने कहा- कश्मीरी महिलाओं पर खट्टर का बयान आरएसएस के प्रशिक्षण का प्रमाण

शनिवार, 10 अगस्त 2019 (19:22 IST)
नई दिल्ली। कश्मीरी महिलाओं के संदर्भ में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर के एक बयान की निंदा करते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शनिवार को दावा किया कि यह इस बात का प्रमाण है कि आरएसएस का प्रशिक्षण एक व्यक्ति की सोच को कैसा बना देता है?
 
गांधी ने ट्वीट कर कहा कि कश्मीरी महिलाओं के बारे में हरियाणा के मुख्यमंत्री खट्टर की टिप्पणी निंदनीय है। यह दिखाता है कि आरएसएस का वर्षों का प्रशक्षिण एक कमजोर, असुरक्षित और दयनीय व्यक्ति की सोच को कैसा बना देता है?
 
उन्होंने कहा कि महिला कोई संपत्ति नहीं हैं कि पुरुषों का उन पर स्वामित्व होगा। दरअसल, खट्टर ने यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया कि अब हरियाणा के लोग कश्मीर से दुल्हन ला सकेंगे। उनका इशारा संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को खत्म कर जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिए जाने की ओर था।
 
खट्टर ने शुक्रवार को फतेहाबाद में एक कार्यक्रम में कहा कि अगर लड़कियों की तादाद लड़कों से कम हो तो दिक्कतें हो सकती हैं। हमारे (ओपी) धनखड़जी ने कहा था कि उन्हें (दुल्हनों को) बिहार से लाना होगा। लेकिन कुछ लोगों ने कहा कि कश्मीर खुला है, लिहाजा उन्हें (दुल्हनों को) वहां से लाया जाएगा। लेकिन मजाक से हटकर सवाल यह है कि अगर अनुपात (लिंग अनुपात) सही रहे तो समाज में संतुलन ठीक रहेगा।
 
गौरतलब है कि धनखड़ ने 2014 में कहा था कि अगर हरियाणा के लड़कों को राज्य में सही जोड़ीदार नहीं मिला तो वे बिहार से उनके लिए दुल्हन लेकर आएंगे। हरियाणा अपने घटते लिंग अनुपात के लिए बदनाम रहा है। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख ममता ने कश्मीरी लड़कियों के संबंध में टिप्पणी के लिए खट्टर की आलोचना की