संघ की सफाई, रिमोट से नहीं चलती मोदी सरकार, नागपुर से नहीं जाता कॉल...

बुधवार, 19 सितम्बर 2018 (09:33 IST)
नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ द्वारा दिल्ली में आयोजित तीन दिवसीय सम्मेलन के दूसरे दिन मंगलवार को भागवत ने कहा कि संघ प्रत्यक्ष तौर पर राजनीति में हिस्सा नहीं लेता है और न ही चुनाव लड़ता है। इसके बावजूद संघ पर आरोप लगता रहा है कि भाजपा को रिमोट से कंट्रोल करता है।


संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि उनका संगठन भाजपा की राजनीति या उसकी सरकार की नीतियों को निर्देशित नहीं करता है। यह धारणा बिलकुल गलत है कि संघ मुख्यालय नागपुर से कॉल किया जाता है और (उसके तथा सरकारी पदाधिकारियों के बीच) बातचीत होती है। यह धारणा इसलिए भी है कि राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री जैसों का नाता संघ से रहा है।

भागवत ने यह भी कहा कि आरएसएस कभी अपने स्वयं सेवकों को किसी राजनीतिक दल के लिए काम करने को नहीं कहता है। उन्होंने कहा कि संघ सलाह नहीं देता है, बल्कि मांगे जाने पर सुझाव पेश करता है। हालांकि उन्होंने भाजपा या उसके किसी भी नेता का नाम नहीं लिया।

आरएसएस प्रमुख ने राजनीति पर संघ के रुख के बारे में विस्तार से चर्चा की और दावा किया कि संघ अपने स्वयं सेवकों को किसी विशेष राजनीतिक दल का समर्थन करने के लिए नहीं कहता है, बल्कि उन्हें सलाह देता है कि वे देश के हित में काम करने वालों का समर्थन करें।

उन्होंने कहा कि हम देश के हितों के बारे में बात करते हैं और यदि हमारे पास ताकत है तो हम जो सही मानते हैं, उस पर जोर देते हैं। यहां छिपाने के लिए कुछ भी नहीं है, हम इसे खुले तौर पर करते हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख खाड़ी देशों से सहायता लेने सऊदी अरब पहुंचे पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान