मौत का तूफान, बिगड़े मौसम से देश के विभिन्न हिस्सों में गई 35 की जान

बुधवार, 17 अप्रैल 2019 (08:55 IST)
नई दिल्ली। मध्यप्रदेश, राजस्थान और गुजरात समेेेत कई राज्यों में सोमवार और मंगलवार को हुई भारी बारिश और आंधी तूफान की वजह से 35 लोगों की मौत हो गई। मध्यप्रदेश में वर्षा जनित हादसों की वजह से 15 लोगों की मौत हो गई जबकि राजस्थान और गुजरात में 9-9 लोग मारे गए।

मध्यप्रदेश में आंधी तूफान ने मचाई भारी तबाही : मध्यप्रदेश के कई जिलों में आंधी-तूफान और बारिश की वजह से किसानों को भारी नुकसान पहुंचा। खेतों में फसल के अलावा मंडियों में पड़ा सैकड़ों क्विंटल गेहूं भीग गया। आंधी की वजह से कई स्थानों पर पेड़ गिरने की खबर हैं। मध्यप्रदेश के इंदौर, धार और शाजापुर में 3-3 लोगों की मौत हो गई। रतलाम में 2 लोग मारे गए जबकि अलिराजपुर, छिंदवाड़ा, सिहोर और राजगढ़ में 1-1 व्यक्ति मारा गया।
 
राजस्थान में ओलावृष्टि के साथ अंधड़ : राजस्थान में मंगलवार को धूलभरी आंधी के साथ हुई ओलावृष्टि से गर्मी से राहत मिली है वहीं किसानों को इससे भारी नुकसान पहुंचने की आशंका है। राजधानी जयपुर सहित राज्य के सभी स्थानों पर गत रात्रि से ही मौसम में बदलाव आया। दोपहर बाद पूरी तरह आसमान में काले बादल छा गए और अंधेरा हो गया। इस दौरान ओलावृष्टि एवं अंधड़ के साथ हुई बारिश से खेतों में पककर तैयार हुए गेंहू की फसलों को नुकसान पहुंचा है।
 
उदयपुर जिले के झाडोल कस्बे के सैलाना गांव में बिजली गिरने से एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई। यह युवक पड़ोस में रहने वाले साथी युवक से मिलने गया था उसी समय अचानक मौसम ने करवट बदली और आकाश में तेज बिजली कड़कने लगी तथा उस पर बिजली गिर गई और घटनास्थल पर ही मौत हो गई।
 
हनुमानगढ़ जिले में रोही करनीसर में गत रात्रि बिजली गिरने से पक्की छत गिर गई जिससे वहां सो रहे एक व्यक्ति की मौत हो गई। एक व्यक्ति घायल हो गया जिसे उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। भीलवाड़ा में बिजली गिरने से दो बच्चों की मौत की सूचना है।

गुजरात में गिरा मोदी की सभा का मंच : गुजरात में आंधी तूफान की वजह से लोगों को भारी परिशानियों को सामना करना पड़ा। वर्षा जनित हादसों में यहां 9 लोगों के मारे जाने की खबर है। हिम्मत नगर में मोदी की सभा से पहले बनाया गया मंच हवा और अंधड़ से गिर गया। मोदी आज गुजरात में हिम्मत नगर, सुरेंद्र नगर और आणंद में सभाएं लेंगे।

इसलिए बदला मौसम का मिजाज : मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार पश्चिमी राजस्थान और पूर्वी उत्तरप्रदेश में कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इस वजह से तीनों राज्यों में गरज चमक के साथ बारिश हुई है। ऐसी स्थिति आज भी बनी रहेगी। 3-4 दिनों तक मौसम में ठंडक भी बनी रहने की संभावना है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख सिद्धू को महंगा पड़ा मुसलमानों पर बयान, दर्ज हुआ मुकदमा