अम्फान तूफान सुपर साइक्लोन में बदला, PM मोदी ने बुलाई बैठक

सोमवार, 18 मई 2020 (13:07 IST)
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम 4 बजे देश के कुछ हिस्सों में आने वाले अम्फान चक्रवात की स्थिति की समीक्षा करने के लिए गृह मंत्रालय (MHA)और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (NDMA) के साथ एक उच्च-स्तरीय बैठक करेंगे। भारत के मौसम विभाग (IMD) ने ओडिशा, पश्चिम बंगाल, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम, असम और मेघालय के लिए तीव्र चक्रवाती तूफान अम्फान के चलते 21 मई तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग का कहना है कि अम्फान तूफान अब सुपर साइक्लोन में बदल गया।
दिल्ली मौसम विभाग के DG मृत्युंजय महापात्र के अनुसार 12 घंटों के अंदर अम्फान के सुपर चक्रवात में बदलने की उम्मीद है। ये अभी उत्तर-उत्तर पूर्व दिशा में गति करेगा। 20 तारीख की शाम को ये दीघा/हातिया द्वीपों के बीच से जाएगा। इस दौरान इसकी गति 155-165 किमी प्रतिघंटा हो सकती है। गंभीर होने पर इसकी गति 185 किमी प्रति घंटा तक हो सकती है। 
 
एनडीआरएफ ने ओडिशा, पश्चिम बंगाल में तैनात कीं 17 टीमें : चक्रवात 'अम्फान' के आसन्न खतरे के चलते राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल में अपनी 17 टीमें तैनात कर दी हैं।
 
एनडीआरएफ के महानिदेशक एसएन प्रधान ने एक वीडियो संदेश में कहा कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल मुख्यालय से स्थिति पर करीब से नजर रख रहा है और हम राज्य सरकारों, भारत मौसम विज्ञान विभाग तथा सबंधित सभी एजेंसियों के संपर्क में हैं।
 
उन्होंने कहा कि मौसम विभाग की रिपोर्ट के अनुसार चक्रवात 'अम्फान' बंगाल की खाड़ी में एक तीव्र चक्रवाती तूफान में तब्दील हो रहा है और संभवत: अगले 24 घंटों में यह अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान बन सकता है।
 
उन्होंने कहा कि बल की 7 टीमें पश्चिम बंगाल में तैनात की गई हैं। ये टीमें राज्य के 6 जिलों (दक्षिणी 24 परगना, उत्तरी 24 परगना, पूर्वी मिदनापुर, पश्चिमी मिदनापुर, हावड़ा और हुगली) में तैनात हैं। 10 टीमें ओडिशा के 7 जिलों (पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, जाजपुर, भद्रक, बालासोर और मयूरभंज) में तैनात की गई हैं। एनडीआरएफ की एक टीम में लगभग 45 कर्मी होते हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख वेतन में कटौती स्वीकार नहीं करने पर सुपर रग्बी के तीन खिलाड़ी निलंबित