Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को जीत–हार के साथ जोड़कर न देखें, पीएम मोदी की अपील

webdunia
webdunia

विकास सिंह

शुक्रवार, 8 नवंबर 2019 (22:29 IST)
देश के सबसे बड़े और पुराने विवाद में अब फैसले की घड़ी आ गई है। सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ शनिवार सुबह 10.30 बजे अपना फैसला सुनाएगी। फैसले को लेकर अयोध्या सहित पूरे उत्तर प्रदेश में सुरक्षा के इंतजाम कड़े कर दिए गए है। फैसले की इस घड़ी में अयोध्या केस से जुड़े सभी पक्षों ने लोगों से आपसी भाईचारा, प्रेम और सौहार्द बनाए रखने की अपील की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि अयोध्या पर फैसला किसी की जीत हार नहीं है। उन्होंने लोगों से अपील की है फैसले पर आपसी प्रेम और सौहार्द बनाए रखे।  

अयोध्या विवाद में मुस्लिम पक्षकार न इकबाल अंसारी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का जो भी फैसला आएगा हम उसको मनाएंगे। उन्होंने अयोध्या के सहित देश के सभी लोगों से सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मानने की अपील की है।

उन्होंने लोगों से घर में बैठक सुप्रीम कोर्ट के हर फैसले का स्वागत करने की अपील की है। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से अपील की है कि वह कोई भी ऐसा काम नहीं करें जिससे माहौल खराब हो सके। उन्होंने अयोध्या के लोगों के साथ पूरे देश के लोगों के साथ अमन सुकून के साथ रहने की अपील की है। 
 
वहीं अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर धर्मगुरु रामविलास वेदांती ने लोगों के साथ शांति बनाए रखने की अपील की है। इसके साथ ही राममंदिर आंदोलन से जुड़े भाजपा के वरिष्ठ नेता विनय कटियार ने लोगों से सुप्रीम कोर्ट का फैसला मानने की अपील की है। उन्होंने कहा कि फैसला से न किसी की जीत होगी न किसी की हार।
 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अपील : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर अपील जारी करते हुए कहा कि आने वाले फैसले को जीत-हार के साथ जोड़कर न देखें। उन्होंने लोगों से अपील की है कि यह सभी की जिम्मेदारी है कि प्रदेश में शांतिपूर्ण और सौहार्दपूर्ण वातावरण को हर हाल में बनाए रखें। 
 
उन्होंने लोगों से अफवाहों पर कतई ध्यान न देने की अपील की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रशासन सभी की सुरक्षा और प्रदेश में कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए कटिबद्ध है और अगर कोई कानून व्यवस्था के साथ खिलवाड़ करने की कोशिश करेगा तो उसके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। 
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

अयोध्या की किलेबंदी, बिना अनुमति प्रवेश होगा मुश्किल