सुषमा स्वराज के निधन पर भावुक हुए लालकृष्ण आडवाणी, बताया कैसे टीम में किया शामिल

बुधवार, 7 अगस्त 2019 (10:50 IST)
पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर भाजपा के वरिष्ठतम नेता लालकृष्ण आडवाणी ने गहरा शोक जताया है। उन्‍होंने अपने बयान में लिखा कि सुषमा स्वराज के निधन की खबर से वे स्तब्ध हैं। वे एक ऐसी नेता थीं, जिन्होंने भारतीय जनता पार्टी की शुरुआत से ही उनके साथ काम किया था। 80 के दशक में जब मैं पार्टी का अध्यक्ष था तो वे एक युवा नेता के तौर पर उभर रही थीं और मैंने उन्हें अपनी टीम में शामिल किया था।

भाजपा के वरिष्ठतम नेता लालकृष्ण आडवाणी ने सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए ट्वीट किया है। उन्‍होंने कहा कि राष्ट्र ने एक असाधारण नेता खो दिया है। मेरे लिए यह एक अपूरणीय क्षति है और मुझे सुषमाजी की मौजूदगी की बहुत याद आएगी। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें।

आडवाणी ने कहा कि वे अपने सबसे निकटतम सहयोगी की अकाल मृत्यु से आहत हैं। उनका निधन उनके लिए ऐसा नुकसान है, जिसकी कभी भरपाई नहीं हो सकेगी और वे उनकी कमी हमेशा महसूस करेंगे। उन्‍होंने कहा कि सुषमा स्वराज के निधन की खबर से वे स्तब्ध हैं। वे एक ऐसी नेता थीं, जिन्होंने भारतीय जनता पार्टी की शुरुआत से ही उनके साथ काम किया था। 80 के दशक में जब मैं पार्टी का अध्यक्ष था तो वे एक युवा नेता के तौर पर उभर रही थीं और मैंने उन्हें अपनी टीम में शामिल किया था।

उन्‍होंने कहा कि समय बीतने के साथ वे हमारे देश में पार्टी की प्रख्यात नेता बनकर उभरीं और महिला नेताओं के लिए एक रोल मॉडल बनकर आगे बढ़ीं। वे एक प्रतिभावान वक्ता थीं। अपने प्रति सुषमा का स्नेह याद करते हुए लालकृष्ण आडवाणी ने कहा कि उनके हर जन्मदिन पर सुषमा स्वराज उनके लिए उनकी पसंदीदा चॉकलेट और केक कभी लाना नहीं भूलती थीं।

आडवाणी ने कहा कि सुषमा स्वराज ऐसी महिला थीं, जिनका सौम्य व्यव्हार सभी के दिल को छू जाता था। उनका निधन न सिर्फ देश बल्कि निजी तौर पर उनके लिए भी एक बड़ी क्षति है। साथ ही आडवाणी ने सुषमा स्वराज के परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख सुषमा स्वराज को आखिरी विदाई देते हुए पीएम नरेंद्र मोदी हुए भावुक