Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मासूम की हलचल से जिंदा है 'ऑपरेशन की उम्मीद', 60 घंटे से बोरवेल में फंसा है बच्चा, अब बनाएंगे सुरंग

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 13 जून 2022 (09:55 IST)
छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में बोरवेल में गिरे मासूम को निकालने के लिए चलाए जा रहे ऑपरेशन में अब तक सफलता नहीं मिल सकी है। 60 घंटे से रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद करीब 60 फीट खुदाई हो सकी है। जबकि बच्चा 80 फीट की गहराई वाले गड्ढे में गिरा है।

बच्चे को निकालने के लिए सेना, NDRF और SDRF की टीम लगी हुई है। सूरत के महेश अहीर ने अपनी रोबोटिक्स टीम के साथ राहुल को निकालने की कोशिश की, लेकिन सफलता नहीं मिली। रेस्क्यू टीम सुरंग की खुदाई कर रहा है। पत्थर की वजह से बड़ी मशीन सुरंग तक नहीं पहुंच पा रही हैं। छेटी ड्रील मशीन से खुदाई हो रही है। अभी लगभग 10 फीट और सुरंग बनाना है। हालांकि बच्चे की हलचल ने ऑपरेशन की उम्मीद बांध रखी है। रेस्क्यू ऑपरेशन में अभी कुछ घंटे और लगने की बातें कही जा रही है। मौके पर कलेक्टर, एसपी सहित पूरा प्रशासनिक अमला मौजूद है।

बता दें कि मुताबिक जांजगीर-चांपा जिले के मालखरौदा के पिहरीद गांव में 11 साल का राहुल साहू शुक्रवार को खेलते-खेलते घर के पीछे की तरफ चला गया। राहुल के पिता रामकुमार उर्फ लाला साहू ने घर की बाड़ी में बोर खुदवाया था। वह बोर फेल हो गया था। बोर को खुला छोड़ दिया गया है। शुक्रवार की दोपहर बोरवेल के गड्ढे में राहुल गिर गया। परिजन जब बाड़ी की तरफ गए तो बच्चे की रोने की आवाज आई, जिसे सुनकर परिजनों को घटना की जानकारी हुई। जिसके बाद से ही ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Prayagraj Violence : प्रयागराज में 'बुलडोजर' का मामला पहुंचा हाईकोर्ट, याचिका में दावा- मोहम्मद जावेद का नहीं है वो मकान...