Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

1 जुलाई से इन 8 बदलावों से पड़ेगा आपके जीवन पर बड़ा असर, सस्ता होने के साथ बदलेंगे नियम

webdunia
सोमवार, 1 जुलाई 2019 (09:14 IST)
1 जुलाई से कई नियम बदलने जा रहे हैं, जिनका आपके जीवन पर बड़ा असर पड़ने वाला है। कई चीजों के दाम सस्ते होंगे तो कई नियम बदल जाएंगे। जानिए क्या होने वाला है सस्ता और कौनसे नियम बदलेंगे...
 
1. सस्ता होगा हुआ सिलेंडर : बिना सब्सिडी वाला रसोई गैस सिलेंडर 1 जुलाई से 100.50 रुपए और सब्सिडी वाला रसोई गैस सिलेंडर 3.02 रुपए सस्ता हो गया है। 1 जुलाई से दिल्ली में बिना सब्सिडी वाला घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 637 रुपए का मिलेगा। जून में इसकी कीमत 737.50 रुपए थी। राष्ट्रीय राजधानी में सब्सिडी वाला रसोई गैस सिलेंडर अब 497.37 रुपए की जगह 494.35 रुपए का हो गया है। अन्य शहरों में भी इसी प्रकार रसोई गैस सिलेंडर के दाम घटाए गए हैं। 
 
2. RTGS, NEFT के जरिए लेनदेन सस्ता : भारतीय रिजर्व बैंक के निर्णयानुसार RTGS और NEFT से पैसा भेजना 1 जुलाई से सस्ता हो जाएगा। रिजर्व बैंक ने इस तरह के धन प्रेषण पर बैंकों के ऊपर किसी भी तरह का शुल्क नहीं लगाने का फैसला किया है। रिजर्व बैंक ने एक जुलाई से आरटीजीएस और एनईएफटी प्रणाली से लेनदेन पर शुल्क हटाने की घोषणा की है। रिजर्व बैंक ने इसी के साथ बैंकों को उसी दिन से ग्राहकों को नई व्यवस्था का लाभ देने के लिए कहा है। रीयल-टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) प्रणाली का इस्तेमाल बड़ी राशि के लेनदेन के लिए उपयोग किया जाता है। वहीं नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (NEFT) प्रणाली का उपयोग 2 लाख रुपए तक की राशि के लेनदेन के लिए होता है।
webdunia
3. मध्यप्रदेश में हेलमेट पहनना अनिवार्य : मध्यप्रदेश में 1 जुलाई से दोपहिया वाहन चालक के साथ उसके पीछे बैठने वाले के लिए भी हेलमेट अनिवार्य हो जाएगा। यह इसलिए होगा क्योंकि सोमवार से नया दोपहिया वाहन खरीदने वाले ग्राहक को अब 2 हेलमेट भी खरीदना अनिवार्य कर दिया गया है। अगर उनके पास पहले से हेलमेट है, तो उन्हें हेलमेट खरीदी का बिल देना होगा। बिल नंबर की इंट्री होने के बाद ही अब गाड़ी का रजिस्ट्रेशन हो पाएगा। वाहन खरीदी के दौरान महिलाओं को भी हेलमेट खरीदना जरूरी होगा, हालांकि उन्हें हेलमेट लगाने की छूट मिली हुई है।
 
4. लघु बचतों पर घटी ब्याज दर : केंद्र  सरकार ने कई लघु बचत योजनाओं की ब्याज की दर को घटा दिया। सुकन्या समृद्धि खाते पर अब 8.4 प्रतिशत ब्याज मिलेगा, जो फिलहाल 8.5 प्रतिशत है। राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र (NSC) और लोक भविष्य निधि (PPF) समेत अन्य छोटी बचत पर जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए ब्याज दर 0.1 प्रतिशत कम कर दी।
 
5. कारें होंगी महंगी : अगर आप कार खरीदने का मन बना रहे हैं तो इसके लिए आपको ज्यादा पैसे चुकाने होंगे। सुरक्षा मानक लागू करने के कारण कारों के दाम बढ़ जाएंगे। इसमें महिन्द्रा की पैसेंजर कार 36000 रुपए और मारुति की डिजायर 12700 रुपए तक महंगी हो जाएंगी।
 
6. होम लोन पर पड़ेगा असर : भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) का होम लोन रेट 1 जुलाई से बदलने जा रहा है। बैंक की तरफ से इस मामले में सभी ब्रांच को सर्कुलर जारी कर दिया गया है। नया होम लोन रेट भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के रेपो रेट से लिंक होगा।

नए रेट के अनुसार एसबीआई से होम लोन लेने वाले ग्राहकों को 75 लाख तक के लोन पर 8.40 फीसदी की दर से ब्याज देना होगा। अभी 20 लाख से अधिक के होम लोन पर लगभग 9 फीसदी की दर से ब्याज देना होता है, लेकिन एसबीआई से होम लोन लेने वाले पुराने ग्राहक फिलहाल नई दरों का लाभ नहीं उठा सकेंगे। रेपो रेट से लिंक रेट पर लोन लेने वाले ग्राहकों को अधिकतम 33 साल के लिए लोन दिए जाएंगे।
7. जीएसटी पर मिलेगा एसएमएस : जीएसटी नेटवर्क (जीएसटीएन) ने एक ऐसी प्रणाली विकसित की है जिसमें माल एवं सेवा कर (जीएसटी) का भुगतान नहीं करने, रिटर्न दाखिल करने में किसी खामी या कंपनियों द्वारा आईटीसी दावे में अंतर होने की स्थिति में प्रवर्तकों, निदेशकों और मालिकों को स्वत: तरीके से एसएमएस भेजा जा रहा है।

8. रेलवे में लागू होगी नई समय सारिणी : रेलवे 1 जुलाई से अपनी नई समय सारिणी लागू करने जा रहा है। उत्तरी रेलवे ने 267 ट्रेनों के समय में बदलाव किया है। नई समय सारिणी सोमवार से लागू हो जाएगी। रेलवे जोन ने नई दिल्ली-चंडीगढ़-नई दिल्ली और नई दिल्ली-लखनऊ-नई दिल्ली मार्ग पर 2 नई तेजस एक्सप्रेस की शुरुआत की है।

4 ट्रेनों के गंतव्य को विस्तारित किया गया है। देहरादून-नई दिल्ली नंदादेवी एक्सप्रेस कोटा जंक्शन तक और अलीगढ़ मुरादाबाद पैसेंजर गजरौला तक जाएगी। रेलवे जोन ने 148 ट्रेनों का प्रस्थान समय बदल दिया है जबकि 93 ट्रेनों का प्रस्थान समय पहले कर दिया गया है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

मैच नहीं जीता पाए धोनी और हुए आलोचना के शिकार