एक अक्टूबर से होने जा रहे हैं 5 बड़े बदलाव, क्या होगा आप पर असर

शनिवार, 29 सितम्बर 2018 (23:04 IST)
एक अक्टूबर से कई महत्वपूर्ण बदलाव होने जा रहे हैं। इन बदलावों का आपके जीवन पर सीधा असर होगा। मोदी सरकार ने चुनाव से पहले कई योजनाओं पर ब्याज दर बढ़ाने की घोषणा की है। इससे समाज सभी वर्गों को फायदा होगा। जानिए, अक्टूबर में क्या-क्या बदलने जा रहा है- 
 
PPF में होगा फायदा : सरकार ने छोटी बचत योजनाओं जैसे कि राष्‍ट्रीय बचत योजना (एनएससी) और पब्लिक प्रोविडेंट फंड (पीपीएफ) जैसी स्कीम पर मिलने वाली ब्याज को अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के लिए 0.40 फीसदी तक बढ़ा दिया है। पीपीएफ पर अब ब्याज 7.6 फीसदी के स्थान पर 8 प्रतिशत मिलेगा। 
 
उल्लेखनीय है कि सरकार ने दिसंबर में राष्ट्रीय बचत प्रमाण-पत्र और लोक भविष्य निधि (पीपीएफ) समेत लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दर में 0.2 प्रतिशत की कटौती की थी। यह कटौती जनवरी-मार्च अवधि के लिए थी। 
 
सुकन्या समृद्धि योजना पर अब मिलेगा ज्यादा ब्याज : सुकन्या समृद्धि योजना में 0.4 फीसदी ब्याज दर बढ़ाई गई है। अब 8.1 के स्थान पर 8.5 प्रतिशत की दर से इस योजना में जमा की गई राशि पर ब्याज मिलेगा।
 
किसान विकास पत्र पर होगा यह फायदा : किसान विकास पत्र पर 7.7 फीसदी ब्याज मिलेगा। किसान विकास पत्र की परिपक्वता अवधि भी कम करके 118 महीने के स्थान पर 112 महीने कर दी गई है। इसके साथ ही वरिष्ठ नागरिकों को जमा पर 8.3 प्रतिशत के स्थान पर अब 8.7 फीसदी ब्याज मिलेगा।
 
महंगी हो सकती है EMI : अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने अपनी ब्याज दरें 0.25 फीसदी बढ़ा दी है। अत: भारतीय रिजर्व बैंक भी 4-5 अक्टूबर को होने वाली बैठक में ब्याज दरें बढ़ा सकता है। ब्याज दर बढ़ने से होम लोन, कार लोन और पर्सनल लोन लेने वालों को ज्यादा ईएमआई देना पड़ सकती है। 
 
महंगी हो सकती है रसोई गैस : सरकार ने नैचुरल गैस की कीमतें बढ़ाने का ऐलान किया है। प्राकृतिक गैस उत्पादकों को दी जाने वाली कीमत मौजूदा 3.06 डॉलर प्रति 10 लाख ब्रिटिश थर्मल यूनिट (एमएमबीटीयू) से बढ़ाकर 3.36 डॉलर प्रति एमएमबीटीयू कर दी गई है। नई दरें एक अक्टूबर से लागू होंगी। इससे सीएनजी और पीएनजी की कीमतों में बढ़ोतरी होना तय माना जा रहा है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING