बड़ा रेल हादसा, जोगमणी से दिल्ली आ रही ट्रेन पटरी से उतरी, 6 की मौत, 30 घायल

रविवार, 3 फ़रवरी 2019 (08:52 IST)
हाजीपुर। बिहार के वैशाली जिले में रेल की पटरी में आई दरार के कारण सीमांचल एक्सप्रेस के 11 डिब्बे पटरी से उतर गए। हादसे में 6 लोगों की मौत हो गई जबकि 30 अन्य घायल हो गए। घायलों में कुछ की हालत गंभीर बताया जा रही है। 12487 जोगबनी-आनंद विहार टर्मिनल सीमांचल एक्सप्रेस दिल्ली आ रही थी। रविवार तड़के करीब 4 बजे वैशाली जिले के सहदेई बुजुर्ग रेलवे स्टेशन के पास उसके 11 डिब्बे पटरी से उतर गए।
 
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हादसे में मरने वालों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए ईश्वर से उन्हें यह तकलीफ सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की भी कामना की है। रेलवे ने पहले कहा था कि हादसे में सात लोगों की मौत हुई है। लेकिन बाद में विभाग ने स्पष्टीकरण जारी कर मृतकों की संख्या छह बताई।
 
वैशाली के सिविल सर्जन डॉक्टर इंद्रदेव रंजन ने बताया कि हादसे में मारे गए लागों की पहचान सायदा खातून (45), अंसार आलम (21), सुदर्शन दास (60), इल्चा देवी (60), इन्द्रा देवी (65) और समसुद्दीन आलम (25) के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को पटना मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है। अन्य लोगों को इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है।
 
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्रेन दुर्घटना में लोगों की मौत पर दु:ख जताते हुए कहा कि सीमांचल एक्सप्रेस की बोगियों के पटरी से उतरने के कारण हुई लोगों की मौत से मैं बहुत दु:खी हूं। मेरी संवेदनाएं शोक-संतप्त परिवारों के साथ हैं। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की मैं कामना करता हूं। उन्होंने ट्वीट किया कि रेलवे, एनडीआरएफ और स्थानीय प्रशासन हरसंभव मदद कर रहे हैं।
 
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्रेन दुर्घटना पर गहरा दु:ख व्यक्त करते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं से पीड़ित परिवारों को हर प्रकार की सहायता मुहैया कराने की अपील की। उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि मैं बिहार में हुई ट्रेन दुर्घटना से बेहद दु:खी हूं। मैं इस दुर्घटना से पीड़ित परिवारों के प्रति गहरा दु:ख व्यक्त करता हूं और मेरी सवेदनाएं उनके साथ हैं।
 
पूर्व-मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि सोनपुर रेल मंडल अंतर्गत बरौनी- बछवारा-हाजीपुर सिंगल रेल लाइन से मेहनार रोड स्टेशन से रविवार तड़के प्रात: 3 बजकर 52 मिनट पर गुजरने के बाद जोगबनी-आनंद विहार टर्मिनल सीमांचल एक्सप्रेस ट्रेन के 11 डिब्बे सहदेई बुजुर्ग रेलवे स्टेशन के समीप 3 बजकर 58 मिनट पर पटरी से उतर गए। पहली नजर में हादसा पटरी में आई दरार के कारण हुआ है। इसकी जांच सीआरएस (पूर्वी क्षेत्र) लतीफ खान करेंगे। हादसे में सुरक्षित बचे 12 डिब्बों सहित ट्रेन को सुबह 9 बजकर 52 मिनट पर रवाना कर दिया गया। इसमें आगे और 11 डिब्बे जोड़े जाएंगे।
 
उन्होंने बताया कि सभी यात्रियों को चाय, भोजन और पीने का पानी उपलब्ध कराया गया है। जो लोग ट्रेन से आगे की यात्रा पूरी नहीं करना चाहते हैं उनके पैसे वापस करने का भी इंतजाम कर दिया गया है। कुमार ने बताया कि इस हादसे को लेकर 3 हेल्पलाइन नंबर (सोनपुर 06158221645, हाजीपुर 06224272230, बरौनी 06279232222 और पटना में 06122202290, 06122202291, 06122202292 एवं 06122213234) जारी किए गए हैं।
 
रेलमंत्री पीयूष गोयल ने दुर्घटना में मारे गए लोगों के लिए शोक व्यक्त करते हुए अनुग्रह और सहायता राशि की घोषणा की है। गोयल के कार्यालय ने ट्वीट किया है कि दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिजन को 5 लाख रुपए की अनुग्रह राशि दी जाएगी, वहीं गंभीर रूप से घायलों में प्रत्येक को 1-1 लाख रुपए जबकि कम जख्मी लोगों को 50-50 हजार रुपए की सहायता राशि दी जाएगी। सभी घायलों के इलाज का खर्च रेलवे वहन करेगा। चित्र सौजन्य : ट्विटर

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख गौतम गंभीर ने शेयर की भीख मांग रहे पूर्व सैनिक की तस्वीर, मदद के लिए एडीजीपीआई को कहा 'शुक्रिया'