उद्धव का मोदी सरकार पर बड़ा हमला, शिव सैनिक राम मंदिर बनाने के लिए तैयार

गुरुवार, 18 अक्टूबर 2018 (23:42 IST)
मुंबई। शिव सेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि यदि आप राम मंदिर नहीं बना सकते है तो हमें कहिए हमारे शिव सैनिक राम मंदिर बनाने के लिए तैयार हैं।
 
उद्धव ने गुरुवार को दशहरा के अवसर पर शिवाजी पार्क में जन समूह को संबोधित करते हुए राम मंदिर, कश्मीर और महंगाई जैसे मुद्दों पर केंद्र सरकार जमकर बरसे।
 
ठाकरे ने जन समूह को संबोधित करते हुए कहा कि रावण हर वर्ष खड़ा हो जाता है लेकिन राम मंदिर नहीं बन पाता। ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को निशाना साधते हुए कहा कि आप पूरे विश्व में घूम रहे हैं अच्छी बात है और विदेशों में देश का नाम बढ़ा रहे यह भी अच्छी बात है लेकिन जिस राज्य से आप हिंदुत्व के नाम से जीत कर आए हैं उस राज्य में अयोध्या में भी आपको जाना चाहिए था।
 
उन्होंने कहा कि यदि आप राम मंदिर नहीं बना सकते है तो हमें कहिए हमारे शिव सैनिक राम मंदिर बनाने के लिए तैयार हैं और हम 25 नवंबर को अयोध्या जाएंगे और हमें सभी साधु संतों का समर्थन प्राप्त है।
 
ठाकरे ने कहा कि आपने राम मंदिर, कश्मीर में धारा 370 हटाने का आश्वासन देकर चुनाव जीता है इसलिए इन आश्वासनों को पूरा करना भी सरकार की जिम्मेदारी है।
 
ठाकरे ने कहा कि भाजपा के लोग कहते हैं कि चुनाव के समय 15 लाख रूपये सबको दिये जाने की बात जुमला था, तो क्या राम मंदिर बनाने की बात भी जुमला था। यदि ऐसा है तो आप जनता को बताएं कि राम मंदिर बनाने की बात सिर्फ जुमला था। उन्होंने कहा कि यदि सरकार जनता से किए वादों को पूरा नहीं करेगी तो जनता उन्हें उखाड़ फेंकेगी।
 
ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र के मराठवाडा में सूखे जैसी स्थिति है लेकिन सरकार सूखा पीडित इलाका घोषित नहीं कर रही है जबकि कर्नाटक सरकार ने कर्नाटक में जिन इलाकों में बारिश नहीं हुए वहां सूखा इलाका घोषित कर दिया है। यदि कर्नाटक सरकार ऐसा कर सकती है तो महाराष्ट्र सरकार क्यों नहीं कर सकती।
 
ठाकरे ने कहा यदि सरकार ने सूखा इलाका घोषित नहीं किया तो हमारे शिव सैनिक रास्ते पर उतरेंगे। इस तरह का कार्यभार देख कर इनके खिलाफ नहीं बोलूं तो क्या आरती उतारूं। मुझसे बार-बार कहा जाता है कि यदि सरकार से नहीं जम रही है तो आप सरकार से बाहर क्यों नहीं हो जाते। इसका जवाब हम अच्छी तरह दे सकते हैं। यदि हम सरकार की कमियों के खिलाफ बोलते हैं तो क्या गलत करते हैं।
 
उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 में चुनाव के समय जो लहर भाजपा के पक्ष में थी वह अब बदल गई है। पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहार वाजपेयी, लालकृष्ण आडवाणी, स्वर्गीय प्रमोद महाजन, स्वर्गीय गोपीनाथ मुंडे और स्वर्गीय बाल ठाकरे ने भाजपा और शिव के बीच युति की थी लेकिन यह युति सरकार में आने के लिए नहीं थी सिर्फ हिंदुत्व के लिए हुई थी। (वार्ता) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING