Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मां गंगा को भूलने वाले देश को भी भूल जाएंगे, PM मोदी पर जलपुरुष राजेंद्र सिंह का बड़ा आरोप

वेबदुनिया की जलपुरुष राजेंद्र सिंह से EXCLUSIVE बातचीत

webdunia
सोमवार, 27 जनवरी 2020 (08:32 IST)
गंगा को लेकर एक बार फिर पर्यावरणविद् और सरकार आमने- सामने आती दिख रही है। एक ओर गंगा को बचाने के लिए उत्तराखंड में साध्वी पदमावती 15 दिसंबर से आमरण अनशन पर बैठी हुई है तो दूसरी ओर आज से उत्तर प्रदेश में योगी सरकार पांच दिवसीय गंगा यात्रा शुरु कर रही है। 5 दिनों तक चलने वाली इस गंगा यात्रा का शुभारंभ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बिजनौर से और बालिया से राज्यपाल आनंदीबेन पटेल करेगी। 
 
जागरण लेक सिटी यूनिवर्सिटी के एक कार्यक्रम में शामिल होने भोपाल आए रेमन मैग्सेसे पुरस्कार विजेता जलपुरुष राजेंद्र सिंह से गंगा को लेकर देश में गर्म होते माहौल पर वेबदुनिया ने खास बातचीत की। बातचीत में राजेंद्र सिंह ने पीएम मोदी के महत्वाकांक्षी नमामि गंगे प्रोजेक्ट पर सवाल उठाते हुए कहा कि अब तक गंगा को केवल सियासी फायदे के लिए इस्तेमाल किया गया है।    
 
मां गंगा को भूले पीएम मोदी : वेबदुनिया से खास बातचीत में राजेंद्र सिंह नमामि गंगे प्रोजेक्ट को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहते हैं कि चुनाव के समय गंगा को अपनी मां बताने वाले प्रधानमंत्री आज उसे भूल गए है। वह कहते हैं कि नमामि गंगे प्रोजेक्ट में पैसा तो खूब खर्च किया गया लेकिन उसका फायदा कुछ नहीं है। सरकार ने बिना गंगा की बीमारी जाने ही उसका इलाज शुरु कर दिया। वह गंगा के जल प्रवाह का रुकना उसकी सबसेस बड़ी बीमारी बताते है। वह प्रधानमंत्री मोदी से मांग करते हैं कि गंगा पर निर्माणाधीन और प्रस्तावित सभी बांधों को निरस्त किया जाए जिससे गंगा अविरल हो कर बह सके। वह मोदी सरकार से गंगा पर बन रहे 4 बांधों को निरस्त कर उसके आजादी देने की मांग करते है। 
गंगा के लिए पदमावती जान देने को तैयारी : उत्तराखंड में गंगा को बचाने के लिए 15 दिंसबर से आमरण अनशन पर बैठी साध्वी पदमावती का जिक्र करते हुए जलपुरुष राजेंद्र सिंह कहते हैं कि उस पर सरकार अनशन खत्म करने के लिए दबाव बना रही है। वह कहते हैं कि इस तरह गंगा को लेकर प्रोफेसर जीडी अग्रवाल और स्वामी निगमानंद पहले ही अपने प्राणों की आहुति दे चुके है और अब एक बेटी अपनी मां (गंगा) को बचाने के लिए आमरण अनशन कर रही है।
 
वह मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहते हैं कि दूसरी बार सत्ता में आते ही पीएम मोदी ने गंगा से संबंधित मंत्रालय खत्म कर जलशक्ति मंत्रालय के नाम से नया मंत्रालय बना दिया लेकिन मंत्रालयों के नाम बदलने से गंगा नहीं बचेगी। वह कहते हैं आज मां गंगा को जो मारने की कोशिश हो रही है उसके खिलाफ देश भर में अविरल गंगा चेतना यात्रा चल रही है और 4 फरवरी को दिल्ली में एक बड़ा सम्मेलन होने जा रहा है।
 
देश पीएम मोदी से डर रहा : देश में CAA को लेकर हो रहे लगातार विरोध प्रदर्शन के बीच अब जलपुरुष राजेंद्र सिंह भी इसके विरोध में आ गए है। वेबदुनिया से खास बातचीत में राजेंद्र सिंह ने कहा कि CAA आने के बाद पूरा देश हिंदू- मुस्लिम के बीच बंट गया है जो समाज के लिए सही नहीं है। वह कहते हैं कि देश में एक डर का माहौल है और आज पूरा देश पीएम मोदी से डरा हुआ है। बातीचत में वह तल्ख अंदाज में कहते हैं कि देश मरा हुआ नहीं है और समय आने पर देश सजग होकर खड़ा हो जाता है, चाहे वो थोड़ा देरी से खड़ा हो। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

पाकिस्तान समर्थक, अलगाववादी समूहों का ब्रिटेन में भारत के खिलाफ प्रदर्शन, सरकार और सेना के खिलाफ नारेबाजी