Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Weather Prediction : मध्य प्रदेश समेत कई राज्‍यों में भारी बारिश की चेतावनी, रेड अलर्ट जारी

webdunia
रविवार, 23 अगस्त 2020 (09:20 IST)
नई दिल्‍ली। मौसम विभाग ने आज राजस्थान, गुजरात और मध्य प्रदेश के लिए चेतावनी जारी की है। शनिवार को मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में अतिवृष्टि दर्ज की गई थी, जबकि सोमवार को मध्य और पश्चिमी भारत में भारी बारिश की आशंका जताई है। ओडिशा में 23 से 25 अगस्त तक, 24 और 25 अगस्त को पश्चिम बंगाल और 25 अगस्त को झारखंड में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। इसके लिए रेड अलर्ट भी जारी किया गया है।

मौसम विभाग ने कहा, बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी पर एक कम दबाव के क्षेत्र के बनने की संभावना के प्रभाव में, 23 अगस्त से वर्षा की गतिविधियां पूर्व और आसपास के मध्य भारत में बढ़ने की संभावना है। ओडिशा में 23 से 25 अगस्त तक, 24 और 25 अगस्त को गंगीय पश्चिम बंगाल और 25 अगस्त को झारखंड में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। इस बीच, दिल्ली में आसमान साफ ​​और नीला रहा। 25 या 26 अगस्त के आसपास दिल्ली एनसीआर में कुछ बारिश हो सकती है।

केंद्रीय जल आयोग ने शनिवार को अपनी बाढ़ की स्थिति रिपोर्ट में चेतावनी दी कि पूर्वी मध्य प्रदेश, गुजरात, पूर्वी राजस्थान और छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों में बाढ़ का खतरा अधिक है। कोंकण क्षेत्र और गोवा में भी बाढ़ का मध्यम खतरा है।
webdunia

राजस्‍‍थान में एक सप्ताह पहले सक्रिय हुए मानसून के आने वाले दिनों में ज्यादा सक्रिय रहने की संभावना है। प्रदेश के करीब आधा दर्जन जिलों में इस दौरान अतिवृष्टि की भी चेतावनी जारी की गई है। 27 अगस्त तक प्रदेश के कई इलाकों में जमकर बारिश होने की संभावना है तो वहीं सितंबर के पहले सप्ताह तक मानसून में कमजोरी देखने को मिलेगी।

मध्य प्रदेश के पांच जिलों रतलाम, धार, झाबुआ, आलीराजपुर और खरगोन में भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार 24 घंटे में 204.5 मिमी से ज्यादा बारिश की आशंका पर रेड अलर्ट जारी किया जाता है। वहीं 9 जिलों मंदसौर, नीमच, आगर, शाजापुर, देवास, उज्जैन, इंदौर, बड़वानी, और बुरहानपुर में अति भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। उधर, विदिशा, रायसेन, भोपाल, सीहोर, राजगढ़, खंडवा, होशंगाबाद, हरदा और बैतूल में कुछ स्थानों पर बारिश हो सकती है।

मध्य प्रदेश में बीते 36 घंटे से बारिश का दौर जारी है। भोपाल, इंदौर समेत प्रदेश के कई जिले तरबतर हो गए हैं। तेज हवाएं भी चल रही है। नदियां उफान पर आ गई है और बाढ़ जैसे हालात बनने लगे हैं। भोपाल में कई निचली बस्तियों में पानी भर गया है। भोपाल शहर में बीते 24 घंटे के भीतर साढ़े 8 इंच से ज्यादा बारिश हो चुकी है। इंदौर में औसत 10.3 इंच (263.4 मिमी) बारिश हुई है।
बुरहानपुर जिले में लगातार बारिश का दौर जारी है। बारिश के चलते नदी-नालों में बाढ़ आ गई है। ताप्ती नदी भी खतरे के निशान 220.800 पर पहुंच गई है। भारी बारिश से बढ़ते जल स्तर के बाद होशंगाबाद में तवा डैम के पांच गेट खोल दिए गए हैं। पांच-पांच फीट खोले गए गेट से 40415 क्यूसेक पानी का डिस्चार्ज किया जाएगा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

12 साल से बड़े बच्चों के लिए मास्क जरूरी, WHO ने जारी की नई गाइडलाइंस