Weather update : महाराष्ट्र में हुई मूसलधार बारिश, उत्तर भारत में रहा उमस भरा मौसम

शनिवार, 4 जुलाई 2020 (23:47 IST)
नई दिल्ली। मुंबई सहित देश के पश्चिमी राज्य महाराष्ट्र के ज्यादातर हिस्सों में शनिवार को हुई मूसलधार बारिश के कारण दीवारें गिरने, पेड़ उखड़ने और जलजमाव के कई मामले सामने आए। राज्य में शनिवार को लगातार दूसरे दिन मूसलधार बारिश हो रही है। हालांकि राहत की बात यह है कि कहीं से किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। उत्तर भारत में आज मौसम गर्मी और उमस भरा रहा। पंजाब और हरियाणा में अधिकतम तापमान सामान्य से ज्यादा दर्ज किया गया। उत्तरप्रदेश में भी कुछ जगहों पर बारिश हुई।

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि मुंबई और पड़ोसी ठाणे जिले में शनिवार सुबह से अभी तक 100 मिलीमीटर सेभी ज्यादा बारिश हुई है। उसके अनुसार महाराष्ट्र के अन्य हिस्सों में भी अच्छी बारिश हुई है। मौसम विभाग के अनुसार, कोलाबा मौसम ब्यूरो ने शनिवार को सुबह 8.30 बजे से शाम 5.30 बजे के बीच 66 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की, जबकि सांताक्रूज मौसम केंद्र ने इसी अवधि के दौरान 111.4 मिमी वर्षा दर्ज की। ठाणे-बेलापुर उद्योग संघ क्षेत्र में इस अवधि के दौरान 116 मिमी वर्षा की सूचना है।

विभाग ने कहा कि मुंबई के उपनगरों और ठाणे में चार जुलाई को सुबह 8.30 बजे से अब तक 100 मिमी से अधिक वर्षा हुई। शहर में लगभग 50 मिमी से अधिक वर्षा हुई है। मुंबई मौसम विज्ञान विभाग के उप महानिदेशक के एस होसलीकर ने ट्वीट किया कि मुंबई सहित उत्तरी कोंकण में 24 घंटे तक भारी वर्षा का पूर्वानुमान किया गया है।

बृहन्नमुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ ने बताया कि शहर के निचले इलाकों जैसे... सिओन, दादर और मिलन सबवे में जलजमाव की सूचना है। एक अधिकारी ने कहा कि अभी तक कहीं से बहुत ज्यादा जलजमाव की शिकायत नहीं है।

उन्होंने बताया कि पेड़ों की शाखाएं टूटने की 19 शिकायतें आई हैं, लेकिन इन घटनाओं में कोई घायल नहीं हुआ है। स्थानीय निकाय पदाधिकारियों ने कहा कि ठाणे में दीवार गिरने की दो घटनाएं हुई हैं, लेकिन उनमे किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

मौसम विभाग ने मुंबई, रायगढ़ और रत्नागिरि के लिए शुक्रवार को रेड अलर्ट जारी किया था और पालघर, मुंबई, ठाणे और रायगढ़ जिलों में कई स्थानों पर शनिवार को भारी से बहुत भारी वर्षा होने का पूर्वानुमान किया था। रायगढ़ जिले में अलीबाग ब्यूरो ने सुबह 8.30 बजे से लेकर शाम 5.30 बजे तक 87.4 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की। रायगढ़ के दक्षिण में तटीय रत्नागिरी जिले में हरनाई में इसी अवधि के दौरान 52.6 मिमी वर्षा दर्ज की गई, जबकि रत्नागिरी शहर के मौसम केंद्र ने 54.1 मिमी वर्षा दर्ज की। दिल्ली के पड़ोसी राज्यों हरियाणा और पंजाब में गर्मी से काई राहत नहीं मिली।

मौसम विभाग के अनुसार, हरियाणा के नारनौल में अधिकतम तापमान 41.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। हिरयाणा के हिसार में अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्री ज्यादा 41 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पंजाब के अमृतसर में भी अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्र ऊपर 35.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में शनिवार को अधिकतम तापमान 35.4 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 28.2 डिग्री सेल्सियस रहा। प्रदेश में सबसे गर्म स्थान आगरा रहा, जहां तापमान 40 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग ने शनिवार को बताया कि बीते 24 घंटे के दौरान गोरखपुर में 34.1 मिलीमीटर, झांसी में 30.2, सोनभद्र के चुर्क में 19.4 तथा सुल्तानपुर में तीन मिलीमीटर वर्षा हुई। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख दिल्ली में Coronavirus मामलों के अगस्त में तेजी से बढ़ने की चेतावनी