मौसम अपडेट : गर्मी का कहर जारी, कुछ राज्यों में हो सकती है राहत की बारिश

रविवार, 16 जून 2019 (10:27 IST)
नई दिल्ली। देश के कई इलाकों में लू की स्थिति लगातार बनी हुई है वहीं शनिवार को पटना में पिछले दस सालों का अधिकतम तापमान का रिकॉर्ड टूट गया हालांकि राहत की बात यह है कि मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक उत्तरी राज्यों में रविवार शाम को आंधी और बारिश आ सकती है। इस बीच गुजरात में कमजोर पड़ चुके चक्रवात वायु के सोमवार शाम तक सौराष्ट्र और कच्छ पहुंचने की संभावना है।

आसमान में बादल छाये रहने और तेज हवाएं चलने से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में रविवार की सुबह मौसम बेहद खुशनुमा हो गया, जिससे लोगों को प्रचंड गर्मी से कुछ राहत मिली। सुबह न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रहा, जो इस मौसम के लिए सामान्य तापमान है। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि पिछले 24 घंटों में हुई हल्की बूंदाबांदी के बाद आज सुबह तेज हवाएं चलने की वजह से गर्मी कम हो गई। मौसम विभाग ने दिन में आमतौर पर बादल छाए रहने, गरज, धूल भरी आंधी चलने और बहुत हल्की बारिश होने का अनुमान लगाया है। अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है।
 
बिहार सरकार ने बीते कुछ दिनों से लू की स्थिति को देखते हुए पटना के सभी स्कूलों को बुधवार तक बंद रखने का आदेश दिया है। राज्य की राजधानी में पटना 45.8 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। यह सामान्य से नौ डिग्री ज्यादा है। औरंगाबाद में लू की वजह से 30 लोगों की मौत हो गई। मौसम विभाग के अनुसार रविवार को पटना के साथ गया, राजगीर, नालंदा, औरंगाबाद, नवादा और भागलपुर के आसपास के क्षेत्र लू की चपेट में रहेंगे। इन सभी शहरों में तापमान 44 डिग्री के आसपास रहने की संभावना है।
 
राजस्थान के कुछ इलाकों में हल्की बारिश हुई जिससे गर्मी से थोड़ी राहत मिली। राज्य में चूरू में पारा सबसे ज्यादा 45.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।  श्रीगंगानगर में अधिकतम तापमान 44.5 डिग्री सेल्सियस था, जिसके बाद बीकानेर में 42.6 डिग्री सेल्सियस और जैसलमेर में 42 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने इस रेगिस्तानी राज्य में कुछ-कुछ जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई है। 
 
उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा तापमान इलाहाबाद में 47.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जिसके बाद सुल्तानपुर में 46.4 डिग्री सेल्यिसस तापमान रहा जो सामान्य से नौ डिग्री अधिक था। 
 
ओडिशा में भी लोगों को भीषण गर्मी से कोई राहत मिलती नजर नहीं आई जहां कम से कम आठ जगहों पर पारा 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर दर्ज किया गया। तीतलागढ़ और मलकानगिरी 43 डिग्री सेल्सियस के साथ राज्य में सबसे गर्म रहे। हिमाचल प्रदेश में ऊना सबसे गर्म रहा जहां तापमान 43.3 डिग्री सेल्सियस रहा। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख पाकिस्तान से ‍मिली खुफिया जानकारी, पुलवामा में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, हाई अलर्ट