Weather updates : बिहार के कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, अलर्ट जारी

सोमवार, 22 जुलाई 2019 (14:50 IST)
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में गुरुवार तक हल्की बारिश होने की संभावना है। वहीं बिहार और असम में भारी बारिश से हालात बि‍गड़े हुए हैं। बिहार के कई जिलों में आज भी भारी बारिश की संभावना जताई गई है। राज्य सरकार ने अलर्ट जारी किया है। वहीं दूसरी ओर मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल समेत राज्य के अन्य हिस्सों में बीते 24 घंटों के दौरान हुई बारिश से तापमान में गिरावट आई है।

खबरों के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में आने वाले तीन से चार दिनों तक हल्की बारिश का अनुमान है। दिल्ली के अलावा बिहार और उत्तर प्रदेश में भी बारिश देखने को मिल रही है। बिहार में कई जगहों पर बाढ़ के हालात बन गए हैं। कई गांवों में पानी भर जाने की खबरें हैं और लोगों को सुरक्षित स्थान की तलाश में भटकना पड़ रहा है। वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश में भी अलग-अलग जगहों पर बारिश देखने को मिल रही है।

बिहार के कई जिलों में आज भारी बारिश की संभावना जताई गई है। इसको लेकर राज्य सरकार ने फिर से अलर्ट जारी किया है। आधा दर्जन जिलों में महज 24 घंटे में 100 मिलीमीटर से अधिक बारिश के आसार हैं। इससे नदियों के जलस्तर में फिर से बढ़ोतरी हो सकती है। बारिश की चेतावनी के बाद सरकार ने सभी संबंधित विभागों को सतर्क कर दिया है। उत्तर बिहार की नदियों के जल ग्रहण क्षेत्र और कई जिलों में तेज बारिश की संभावना व्यक्त की गई है। तटबंधों की लगातार निगरानी करने को कहा गया है। ऐसे स्थलों की युद्धस्तर पर मरम्मत का भी निर्देश है।

असम में बाढ़ से पांच और लोगों की मौत होने से रविवार को इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 64 हो गई है। राज्य के कुछ क्षेत्रों में पानी का स्तर कम हुआ है। राज्य के 33 जिलों में 18 अभी जलमग्न हैं और इससे 38.37 लाख लोग प्रभावित हैं। काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में भी 141 जानवरों की बाढ़ के कारण मौत हो चुकी है। ब्रह्मपुत्र नदी जोरहाट जिले के नेमाटीघाट और धुबरी जिले में खतरे के स्तर से ऊपर बह रही है। जिला प्रशासनों द्वारा बनाए गए 829 राहत शिविरों और राहत वितरण केन्द्रों में 1,15,389 से अधिक विस्थापित लोग हैं।

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल सहित राज्य के अन्य हिस्सों में बीते 24 घंटों के दौरान हुई बारिश से तापमान में गिरावट आई है और गर्मी का असर कम है, मगर उमस बढ़ गई है। राज्य के मौसम में बदलाव का दौर जारी है। आने वाले 24 घंटे में राज्य के कई हिस्सों में बारिश हो सकती है। वहीं दूसरी ओर छत्तीसगढ़ में ऐसे हालात बन गए हैं कि चक्रवात के अलावा कोई सिस्टम नहीं है, जिससे बुधवार-गुरुवार तक बारिश की संभावना बन रही हो। पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में कुछ जगह हल्की बारिश ही हुई है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Mission Moon2 Live : भारत की ऐतिहासिक उड़ान, चन्द्रयान-2 हुआ लांच