Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मौसम अपडेट : मध्य दिल्ली बना भारत में दूसरा सबसे अधिक वर्षा की कमी वाला जिला

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 28 जून 2021 (23:04 IST)
नई दिल्ली। मध्य दिल्ली में इस मानसून के मौसम में अब तक केवल 8.5 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है, जो देश में दूसरा सबसे अधिक बारिश की कमी वाला जिला है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के आंकड़ों के अनुसार यह जानकारी सामने आई है। भारत में एक जून से 30 सितंबर तक आधिकारिक तौर पर मानसून का मौसम माना जाता है।

मध्य दिल्ली में एक जून के बाद से सामान्य 53.3 मिमी के मुकाबले केवल 8.5 मिमी बारिश हुई है, जिसमें 84 प्रतिशत की कमी है। देश में सबसे ज्यादा बारिश की कमी जम्मू-कश्मीर के किश्तवार जिले में है। सामान्य 68.4 मिमी के मुकाबले 5 मिमी वर्षा दर्ज की गई है, जिसमें 93 प्रतिशत की कमी है।

राष्ट्रीय राजधानी में, पूर्वी दिल्ली में सामान्य 53.3 मिमी के मुकाबले 19.2 मिमी बारिश हुई है, जो 64 प्रतिशत कम है। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में 20.7 मिमी बारिश हुई है, जो सामान्य से 61 प्रतिशत कम है और दक्षिणी दिल्ली में सामान्य से 58 प्रतिशत कम 22.2 मिमी बारिश हुई है।
ALSO READ: Twitter ने अपनी वेबसाइट से हटाया भारत का गलत नक्शा, लद्दाख और जम्मू-कश्मीर को दिखाया था अलग देश
दक्षिण-पश्चिम दिल्ली और नई दिल्ली में अब तक क्रमश: 29.6 मिमी और 27.7 मिमी बारिश दर्ज की गई है, जो सामान्य वर्षा से 50 प्रतिशत कम है। उत्तरी दिल्ली में 37.7 मिमी बारिश हुई है, जो सामान्य से 33 प्रतिशत कम है और उत्तर पश्चिमी दिल्ली में 29.8 मिमी वर्षा दर्ज की गई है, जो औसत वर्षा से 22 प्रतिशत कम है।
ALSO READ: Delta Plus वैरिएंट का टीके पर प्रतिकूल प्रभाव डालने का कोई वैज्ञानिक डाटा उपलब्ध नहीं : डॉ. वीके पॉल
केवल पश्चिमी दिल्ली में अब तक सामान्य बारिश हुई है, जहां 52.9 मिमी के औसत के मुकाबले 53.5 मिमी बारिश हुई है। मौसम विभाग ने सोमवार को कहा कि दिल्ली और उत्तर पश्चिम भारत के आसपास के इलाकों में मानसून की पहली बारिश के लिए एक और सप्ताह इंतजार करना होगा।

आमतौर पर मानसून 27 जून तक दिल्ली पहुंच जाता है और आठ जुलाई तक पूरे देश में दस्तक दे देता है। पिछले साल मानसून 25 जून को दिल्ली पहुंचा था और 29 जून तक पूरे देश में पहुंच गया था।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Twitter ने अपनी वेबसाइट से हटाया भारत का गलत नक्शा, लद्दाख और जम्मू-कश्मीर को दिखाया था अलग देश