Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Weather Prediction : उत्तर भारत में पारे ने गोता लगाया, कश्मीर और हिमाचल में हाड़ गलाने वाली ठंड

webdunia
सोमवार, 20 जनवरी 2020 (07:20 IST)
नई दिल्ली। उत्तर भारत के अधिकतर इलाकों में रविवार को तापमान में गिरावट आई। वहीं कश्मीर, लद्दाख और हिमाचल प्रदेश के पर्यटक स्थलों पर हाड़ गलाने वाली सर्दी पड़ रही है। राष्ट्रीय राजधानी में लोगों की सुबह कड़कड़ाती ठंड से हुई और अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस कम 16.7 डिग्री दर्ज किया गया जबकि न्यूनतम तापमान सात डिग्री रहा।
 
बर्फबारी और बारिश की संभावना : मौसम विभाग ने अगले दो दिनों तक उत्तर भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी और उत्तर पश्चिमी भारत के मैदानी इलाकों में बारिश होने की संभावना है। अगले दो तीन दिनों तक पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में बहुत घना कोहरा रहने की संभावना जताई है जबकि उत्तराखंड, उत्तरी राजस्थान, उत्तरी मध्यप्रदेश, पश्चिम बंगाल और बिहार में भी 22 जनवरी तक घना कोहरा हो सकता है।
 
सड़कों पर बर्फ की परत : कश्मीर घाटी और लद्दाख केंद्र शासित प्रदेश में रात का तापमान शून्य डिग्री से नीचे बना हुआ है और सड़कों पर बर्फ की परत जमी है जिससे लोगों को असुविधा हो रही है। कश्मीर और लद्दाख में रात का तापमान शून्य डिग्री से नीचे चल रहा है। श्रीनगर में रविवार को न्यूनतम तापमान शून्य से 2.8 डिग्री नीचे दर्ज किया गया, जो शनिवार के 1.4 डिग्री से भी एक डिग्री नीचे है।
 
लेह में न्यूनतम तापमान माइनस 16.3 डिग्री : लद्दाख के लेह में न्यूनतम तापमान शून्य से 16.3 डिग्री नीचे दर्ज किया गया जबकि पिछली रात यह शून्य से 13.0 डिग्री नीचे था।

कश्मीर में दिन के दौरान धूप खिली रही, जिससे लोगों को कुछ राहत मिली। हिमाचल प्रदेश रविवार को भी शीतलहर की चपेट में रहा और कई पर्यटक स्थलों पर शून्य के नीचे तापमान दर्ज किया गया।
webdunia
कुफ्री में तापमान शून्य से 4.6 डिग्री : हिमाचल प्रदेश में न्यूनतम तापमान में 2 से 3 डिग्री की गिरावट आई है। कुफ्री में न्यूनतम तापमान शून्य से 4.6 डिग्री नीचे दर्ज किया गया। इसी प्रकार मनाली में शून्य से 4.4 डिग्री नीचे, डलहौजी में शून्य से 2.4 डिग्री नीचे और शिमला में शून्य से 0.6 डिग्री नीचे न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया।
 
किलॉन्ग सबसे ज्यादा ठंडा : जनजातीय जिला लाहौल-स्पीति का प्रशासनिक मुख्यालय किलॉन्ग राज्य की सबसे ठंडी जगह रही, जहां पर शून्य से 14.6 डिग्री तापमान दर्ज किया गया। पूरे राज्य में अधिकतम तापमान भी सामान्य से एक से दो डिग्री नीचे दर्ज किया गया। राज्य में सबसे अधिक तापमान 21 डिग्री ऊना में दर्ज किया गया।
 
ऊपरी इलाकों बर्फबारी : शिमला सहित राज्यों के कई ऊपरी इलाकों बर्फबारी और निचले इलाकों में हल्की बारिश हुई है। पंजाब और हरियाणा भी रविवार को शीतलहर की चपेट में रहे और अधिकतर स्थानों पर सामान्य से कम तापमान दर्ज किया गया। पंजाब में आदमपुर सबसे ठंडी जगह रही जहां पर न्यूनतम तापमान 3 डिग्री दर्ज किया गया।
webdunia
हिसार और सिरसा में में 5.3 डिग्री :  लुधियाना में 6.7 डिग्री, पटियाला में 7.6 डिग्री, हलवारा में 7 डिग्री, बठिंडा में 5.3 डिग्री और गुरदासपुर में 8.1 डिग्री न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया। हरियाणा के हिसार में 5.3 डिग्री, अंबाला में 6.2 डिग्री, भिवानी में 6.1 डिग्री और सिरसा में 5.3 डिग्री न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया। केंद्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ में रात में पारा 6.6 डिग्री पर पहुंच गया।
 
कोहरे की मार : कोहरे की वजह से अंबाला, हिसार, करनाल, नरनौल, भिवानी, अमृतसर, लुधियाना और पटियाला में सुबह दृश्यता कम रही। उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में राजस्थान में भी तापमान में दो से तीन डिग्री की गिरावट आई है। 2.5 डिग्री तापमान के साथ सीकर राज्य की सबसे ठंडी जगह रही।
 
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में न्यूनतम तापमान 11.7 और अधिकतम तापमान 18.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राज्य में मुजफ्फरनगर सबसे ठंडा स्थान रहा जहां पर न्यूनतम तापमान 6.1 डिग्री दर्ज किया गया।
 
राजस्थान में कड़ाके की सर्दी : राजस्थान में ठंड़ी हवाओं के चलते रविवार को भी कड़ाके की सर्दी का दौर जारी रहा। श्रीगंगानगर, चूरू, झुंझुनूं और कोटा में घने कोहरे के कारण लोगों को आवागमन में परेशानियों का सामाना करना पड़ा।
 
सीकर में न्यूनतम तापमान 2.5 डिग्री सेल्सियस, चूरू में 4.4 डिग्री सेल्सियस, पिलानी में 4.5 डिग्री, श्रीगंगानगर में 5.0 डिग्री,बीकानेर में 6.3 डिग्री, जैसलमेर में 7.3 डिग्री, जोधपुर में 7.5 डिग्री, फलौदी में 7.8 डिग्री, बाड़मेर में 8.2 डिग्री सेल्सियस, कोटा-डबोक में 8.8-8.8 डिग्री सेल्सियस, अजमेर में 9.0 डिग्री सेल्सियस और जयपुर में 10.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

750+ मैच जीतने वाली Team India दुनिया की तीसरी टीम बनी, ये बने रिकॉर्ड