'चौकीदार’ के राज में चिदंबरम के बाद किसका नंबर? इनसाइड स्टोरी

विकास सिंह

गुरुवार, 22 अगस्त 2019 (21:11 IST)
देश के पूर्व गृहमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता पी. चिदंबरम की भ्रष्टाचार के मामले में गिरफ्तारी के बाद कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। दिल्ली में 5 साल पहले मोदी सरकार बनने के बाद कांग्रेस के कई बड़े नेता जांच के घेरे में आए और अब मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में उन पर शिकंजा कसता नजर आ रहा है। 
 
लोकसभा चुनाव के दौरान खुद पीएम मोदी ने अपने को चौकीदार बताते हुए कहा था कि वह भ्रष्टाचार करने वालों को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाएंगे। अपने बड़े नेता चिदंबरम की गिरफ्तारी के बाद कांग्रेस मोदी सरकार पर हमलावर हो उठी है। पार्टी ने इसे लोकतंत्र की हत्या बताते हुए इसे बदले की भावना से की गई कार्रवाई बताया है। 
 
खुद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी चिदंबरम के बचाव में खुलकर आए हैं। आज कांग्रेस मुख्यालय में बाकायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चिदंबरम का बचाव किया। कांग्रेस के सभी नेता इसे एक सुर में बदले की भावना से कार्रवाई बता रहे है। ऐसे में यह सवाल खड़ा हो रहा है कि क्या कांग्रेस बदले की भावना से कार्रवाई बताकर चिदंबरम का बचाव करने के साथ ही अपने कई ऐसे और नेताओं का भी बचाव कर रही है, जो भ्रष्टाचार के ऐसे ही कई मामलों में आरोपी हैं?
 
सोनिया, राहुल पर भ्रष्टाचार का आरोप : कांग्रेस भ्रष्टाचार के आरोपों से किस कदर घिरी हैं, इसको केवल इससे समझा जा सकता है कि पार्टी की वर्तमान कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके बेटे राहुल गांधी भी भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे हुए हैं। नेशनल हेराल्ड केस में सोनिया और राहुल आरोपी हैं और इस वक्त जमानत पर बाहर हैं। 
 
भाजपा के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड के अधिग्रहण में सोनिया और राहुल पर धोखाधड़ी और कर चोरी का केस दर्ज कराया था। वह कई बार सोनिया और राहुल की गिफ्तारी की मांग कर चुके है। लोकसभा चुनाव के समय भाजपा ने इसे खूब मुद्दा बनाया था। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी सभाओं में उनके जमानत पर बाहर होने पर तंज कसते रहे है। 
 
संसद के बीते मानूसन सत्र में भी पीएम मोदी ने तंज कसते हुए कहा था कि ‘जमानत पर हैं तो एन्जॉय करिए’। इसके साथ ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ड वाड्रा में मनी लॉन्डिंग केस में फंसे हुए हैं। इस मामले में ईडी रॉबर्ट वाड्रा से कई बार पूछताछ भी कर चुकी है। ऐसे में आने वाले समय इन मामलों की जांच तेज होकर उन पर शिकंजा कस सकता है।
 
अहमद पटेल पर कसेगा शिकंजा? : अगस्ता वेस्टलैंड वीआईपी हेलीकॉप्टर खरीद घोटाले में सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल पर हेलीकॉप्टर कंपनी से कमीशन लेने का आरोप है। इस मामले की जांच सीबीआई और अन्य जांच एजेंसियां कर रही है। पूरे मामले को लेकर प्रवर्तन निदेशालय की ओर से जो चार्जशीट दाखिल की गई है, उसमें अहमद पटेल का जिक्र है। इस मामले में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी भी आरोपी है और वह पहले ही बैंक्र फॉड केस में इस समय सलाखों के पीछे है।
 
फंसे हैं भूपिंदर सिंह हुड्डा : हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता भूपिंदर सिंह हुड्डा जमीन सौदे घोटाले में सीबीआई की जांच में बुरी तरह फंसे हुए हैं। इस मामले में ईडी ने हुड्डा से कई बार पूछताछ कर चुकी है। इस मामले में हुड्डा आए दिन कोर्ट के चक्कर लगा चुके हैं।  
 
शशि थरुर पर जांच की आंच : कांग्रेस सांसद और पूर्व मंत्री शशि थरुर पत्नी सुनंदा पुष्कर के मामले में आरोपी है। इस मामले को लेकर जांच कर रही दिल्ली पुलिस को लेकर कई बार सवाल उठ चुके हैं। ऐसे में आने वाले समय में शशि थरुर के खिलाफ जांच तेज हो सकती है और उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मंदी के दौर में भी छा गई किआ की सेल्टोस, लांचिंग के पहले ही बुक हो गई 32035 कारें