Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

नवरात्रि में अखंड ज्योति जला रहे हैं तो 10 नियम अभी नोट कर लें

हमें फॉलो करें webdunia
Akhand deep navratri 2022
 
इस वर्ष शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri 2022) पर्व आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से यानी 26 सितंबर 2022, सोमवार से प्रारंभ हो रही है और नवरात्रि का समापन 5 अक्टूबर 2022 को होगा।

हिंदू धर्म में नवरात्रि का का विशेष महत्व माना गया है। हम वर्ष में दो बार देवी की आराधना करते हैं और इस दौरान माता दुर्गारानी को प्रसन्न करने के लिए कलश स्थापना, अंखड ज्योति, माता की चौकी आदि तरह के पूजन-अर्चन करते हैं। 
 
नवरात्रि के नौ दिनों तक हम घर पर कलश स्थापना और अखंड ज्योत जलाते हैं। अखंड ज्योति पूरे नौ दिन तक बिना बुझे जलाने का प्रावधान है। मान्यता नुसार घर में अखंड ज्योति जलाने के बाद आप उसे अकेला नहीं छोड़ सकते हैं और अगर यह ज्योति बुझ जाए तो अपशगुन माना जाता है। नवरात्रि में दीपक जलाए रखने से घर-परिवार में सुख-शांति एवं पितृ शांति रहती है। 
 
आइए जानते हैं नवरात्रि के पावन पर्व पर अखंड ज्योति जलाने के 10 नियम क्या-क्या हैं-Navratri ke Niyam
 
1. नवरात्रि में अखंड ज्योति की लौ पूर्व दिशा की ओर रखने से आयु में वृद्धि होती है। दीपक की लौ पश्चिम दिशा की ओर रखने से दुख बढ़ता है। दीपक की लौ उत्तर दिशा की ओर रखने से धनलाभ होता है। दीपक की लौ दक्षिण दिशा की ओर रखने से हानि होती है। यह हानि किसी व्यक्ति या धन के रूप में भी हो सकती है। 
2. अखंड ज्योति की गर्मी दीपक से 4 अंगुल चारों ओर अनुभव होनी चाहिए। ऐसा दीपक भाग्योदय का सूचक होता है। 
 
3. नवरात्रि में घी एवं सरसों के तेल का अखंड दीपक जलाने से त्वरित शुभ कार्य सिद्ध होते हैं। 
 
4. अगर अखंड ज्योति बिना किसी कारण के स्वयं बुझ जाए तो घर में आर्थिक तंगी आने की संभावना रहती है। 
 
5. दीपक में बार-बार बाती नहीं बदलनी चाहिए। दीपक से दीपक जलाना भी अशुभ माना जाता है। ऐसा करने से रोग में वृद्धि होती है और मागंलिक कार्यों में बाधाएं आती है। 
 
6. मिट्टी के दीपक में अखंड ज्योति जलाने से आर्थिक समृद्धि आती है और चारों दिशाओं में आपकी कीर्ति का बखान होता है।
 
7. शनि के कुप्रभाव से मुक्ति के लिए नवरात्रि में तिल के तेल की अखंड ज्योत शुभ मानी जाती है।
 
8. दीपक की लौ सुनहरी जलनी चाहिए, जिससे आपके जीवन में धन-धान्य की वर्षा होती है और व्यापार में प्रगति होती है।
 
9. नवरात्रि में विद्यार्थियों को सफलता के लिए घी का दीपक जलाना चाहिए। 
 
10. अगर आप वास्तु दोष से परेशान है तो उसे दूर करने के लिए वास्तु दोष वाली जगह पर तिल के तेल का दीपक जलाकर रखना चाहिए।

webdunia
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सर्वपितृ अमावस्या कब है? क्या करें इस दिन कि 16 दिनों का मिल जाए पुण्य फल