नवरात्रि की पहली देवी शैलपुत्री की आरती : शैलपुत्री मां बैल पर सवार, करें देवता जय जयकार

नवरात्रि के पहले दिन की जाती है मां शैलपुत्री की पूजा। यहां पाठकों के लिए प्रस्तुत हैं मां शैलपुत्री की आरती...
 
मां शैलपुत्री की आरती

शैलपुत्री मां बैल पर सवार। करें देवता जय जयकार। 
शिव शंकर की प्रिय भवानी। तेरी महिमा किसी ने ना जानी। 
 
पार्वती तू उमा कहलावे। जो तुझे सिमरे सो सुख पावे। 
ऋद्धि-सिद्धि परवान करे तू। दया करे धनवान करे तू। 
 
सोमवार को शिव संग प्यारी। आरती तेरी जिसने उतारी। 
उसकी सगरी आस पुजा दो। सगरे दुख तकलीफ मिला दो। 
 
घी का सुंदर दीप जला के। गोला गरी का भोग लगा के। 
श्रद्धा भाव से मंत्र गाएं। प्रेम सहित फिर शीश झुकाएं। 
 
जय गिरिराज किशोरी अंबे। शिव मुख चंद्र चकोरी अंबे। 
मनोकामना पूर्ण कर दो। भक्त सदा सुख संपत्ति भर दो।

ALSO READ: Navratri first day Devi Shailputri : मां दुर्गा की पहली शक्ति है शैलपुत्री, पढ़ें देवी का मंत्र और पवित्र कथा

 
 
webdunia-ad

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख 28 सितंबर 2019 शनिवार, आज इन 3 राशियों के लोगों के व्यावसायिक यात्रा के योग बनेंगे