Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia

आज के शुभ मुहूर्त

(माघ पूर्णिमा)
  • तिथि- माघ शुक्ल चतुर्दशी
  • शुभ समय- 7:30 से 10:45, 12:20 से 2:00 तक
  • व्रत/मुहूर्त-व्रत पूर्णिमा, स्वामी रामचरण प्रभु ज., संत गाडगे ज.
  • राहुकाल-प्रात: 10:30 से 12:00 बजे तक
webdunia
Advertiesment

शारदीय नवरात्रि 2021 में माता रानी की इस बार सवारी क्या है और क्या है संकेत

हमें फॉलो करें शारदीय नवरात्रि 2021 में माता रानी की इस बार सवारी क्या है और क्या है संकेत

अनिरुद्ध जोशी

शारदीय नवरात्रि आश्विन माह की प्रतिपदा से प्रारंभ होती है। इस वर्ष 2021 में 6 अक्टूबर को सर्व पितृ अमावस्या के बाद 7 अक्टूबर गुरुवार को नवरात्रि का पर्व प्रारंभ होगा जो 15 अक्टूबर तक चलेगा। आओ जानते हैं कि माता इस बार किस सवारी पर सवार होकर आ रही है और क्या है इसके संकेत।
 
 
1. डोली पर सवार होकर आ रही है माता जी : नवरात्रि के पर्व में इस बार माताजी डोली पर सवार होकर आएंगी। कहते हैं कि नवरात्रि की शुरुआत यदि सोमवार या रविवार को हो तो इसका अर्थ है कि माता हाथी पर सवार होकर आएंगी। शनिवार और मंगलवार को माता अश्व यानी घोड़े पर सवार होकर आती हैं। गुरुवार या शुक्रवार को नवरात्रि का पर्व प्रारंभ हो तो माता डोली पर सवार होकर आती है।
2. क्या है संकेत : ज्योतिष विद्वानों और देवीभागवत पुराण के अनुसार माता का डोली पर सवार होकर आना शुभ संकेत नहीं माना जाता है। मान्यता है कि ऐसे में राजनैतिक उथल-पुथल के साथ ही प्राकृतिक आपदाओं के बढ़ने की संभावना रहती है। यह भी कहा जा रहा है कि महामारी या संक्रमण फैलने का खतरा भी बढ़ जाता है। हालांकि महिलाओं पर इसका बुरा असर नहीं होगा।
 
ऐसे में लोगों को अपनी सेहत के प्रति ज्यादा सचेत रहने की जरूरत है और कहते हैं कि जो लोग उचित रूप से विधिवत तरीके से नवरात्रि के व्रत रखकर उसके नियमों का पालन करते हैं और जो माता के भक्त हैं उनके सामने ज्यादा कठिनाइयां खड़ी नहीं होगी। माता की कृपा उन पर बनी रहेगी।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

नवरात्रि में उपवास के 10 नियम जान लें वर्ना पछताएंगे