15 अगस्त 2019 को है रक्षा बंधन : जानिए मंत्र, मुहूर्त और 20 ऐसी बातें जो शर्तिया आपको कहीं और नहीं मिलेंगी

भाई और बहन का खूबसूरत पर्व रक्षा बंधन इस वर्ष भारतीय स्वतंत्रता दिवस यानी 15 अगस्त को आ रहा है। रक्षा बंधन के दिन बांधा गया रक्षा सूत्र भाई को अकाल मृत्यु के भय से भी बचाता है। यह रक्षा सूत्र विपरीत स्थिति में मजबूती देता है। 
 
इस साल रक्षा बंधन पर राखी बांधने का मुहूर्त काफी लंबा है। रक्षा बंधन 2019 के दिन बहन अपने भाई को सुबह 05:49 से शाम के 6:01 बजे तक राखी बांध सकती हैं। 
 
पर्व मनाने की सरल विधि 
 
1-रक्षा बंधन के दिन सबसे पहले भाई बहन उठकर स्नान आदि से निवृत्त होकर रंगबिरंगे सुंदर नवीन कपड़े पहन कर सूर्य देव को जल चढ़ाएं और घर के मंदिर में यथा शक्ति पूजा अर्चना करें। 
 
2- भाई बहन एक दूसरे का मुंह मीठा करवाएं और शुभ मुहूर्त में राखी बांधने की तैयारी करें। 

ALSO READ: रक्षा बंधन 2019 : गुरुवार के सबसे शुभ और श्रेष्ठ मुहूर्त में बांधें राखियां
 
3- चांदी, पीतल, तांबे की या कोई भी साफ स्वच्छ थाली लें। 
 
4- इस थाली में सुंदर कपड़ा बिछाएं। 
 
5- जल का कलश नारियल, सुपारी, मौली, रोली, चंदन, अक्षत, दही, रक्षा सूत्र, उपहार और मिठाई रखें।  
 
6- घी का एक दीपक भी रखें, जिससे भाई की आरती कर सकें। 
 
7- रक्षा सूत्र और पूजा की थाल सबसे पहले भगवान को समर्पित करें। 
 
8- भाई से पहले अपने इष्टदेव कान्हा, श्री गणेश या शिव जी को राखी अर्पित करें। 
 
9- नागदेवता और भैरव जी के नाम की राखी बांधना न भूलें। 
 
10 - इसके बाद दिन के सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त में भाई को पूर्व या उत्तर की तरफ मुंह करवाकर पीढ़े पर बैठाएं। 
 
11 - पहले भाई को तिलक लगाएं, फिर रक्षा सूत्र बांधें और फिर आरती करें। पूरा पूजन कार्य मनोयोग से करें सेल्फी आप बाद में भी ले सकते हैं। बेहतर होगा कि पर्व मनाने के दौरान एक झोले में सबके मोबाइल रख दें और कुछ देर के लिए भूल जाएं।  
 
12 - राखी बांधते समय बहन इस मंत्र का उच्चारण करें, इससे भाई की आयु में वृद्धि होती है।
 
ॐ येन बद्धो बलि राजा, दानवेन्द्रो महाबल:
तेन त्वां प्रति बध्नामि, रक्षे मा चल मा चल।
 
13- इसके बाद मिठाई खिलाकर भाई की मंगल कामना करें। अब आप साथ में जितनी चाहे फोटो ले सकते हैं। पर्वों की सुंदरता इसी में है कि हंसी-खुशी और आनंद का वातावरण बना रहे ले‍किन रीति रिवाज के दौरान बस फोटो पर ही ध्यान देना उचित नहीं है। पहले शांतिपूर्वक बड़े बुजुर्गों के सान्निध्य में खुशियां मना लें फिर मर्जी अनुसार फोटो ले सकते हैं। 
 
14 - रक्षा सूत्र बांधने के समय भाई तथा बहन का सिर खुला नहीं होना चाहिए। 
 
15- रक्षा सूत्र बंधवाने के बाद माता-पिता और बड़ों आशीर्वाद लें, इसके बाद बहन को सामर्थ्य के अनुसार उपहार दें। आजकल बहनें भी जॉब करती हैं तो वह भी अपने भाई के लिए उपहार लाती हैं। यह भी शुभ परंपरा है इसका भी समर्थन करना चाहिए। बहन छोटी हो या बड़ी उनके पैर हमेशा स्पर्श करने चाहिए। 
 
16- उपहार और मिठाई में ऐसी चीजें दें, जो दोनों के लिए मंगलकारी और रूचिकर हो, काले वस्त्र तथा तीखा या नमकीन खाद्य न दें। 
 
17 - रक्षासूत्र तीन धागों का होना चाहिए, लाल पीला और सफेद। अन्यथा लाल और पीला धागा तो होना ही चाहिए। 
 
18- रक्षासूत्र में चंदन लगा हो तो बेहद शुभ होगा। 
 
19- राखी से पूर्व कलावा भी श्रद्धा पूर्वक बांधें। 
 
20 - 15 अगस्त, गुरुवार के दिन रक्षाबंधन के शुभ मुहूर्त सुबह 05:49 से शाम 6:01 तक हैं। आप कभी भी चौघड़िया मुहूर्त देखकर राखी बांध सकती हैं। 

ALSO READ: रक्षा बंधन 2019 : कौन से शुभ मुहूर्त में बांधें राखी, भद्रा और पंचक की क्या है स्थिति?

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख स्वतंत्रता दिवस पर जानिए 2019 में क्या कहते हैं भारत के सितारे