छत्तीसगढ़ की पहली कैबिनेट में किसानों के कर्जमाफी पर होगा निर्णय : बघेल

रविवार, 16 दिसंबर 2018 (22:10 IST)
रायपुर। छत्तीसगढ़ के मनोनीत मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि उनकी कैबिनेट की पहली बैठक में किसानों की कर्जमाफी एवं झीरम घाटी नक्सल हमले षड्यंत्र की जांच के लिए एसआईटी गठित करने का निर्णय लिया जाएगा।
 
 
बघेल ने राजभवन में सरकार बनाने का दावा पेश करने के बाद पत्रकारों से कहा कि कैबिनेट की पहली बैठक में ही किसानों से समर्थन मूल्य पर 2,500 रुपए प्रति क्विंटल पर धान खरीद करने का निर्णय होगा। सोमवार को वे शपथ लेने के बाद पार्टी आलाकमान से चर्चा कर अपने मंत्रिमंडल का गठन करेंगे।
 
उन्होंने कहा कि 5 वर्ष तक उन्होंने सामूहिक नेतृत्व में पार्टी संगठन चलाया और अब वे 5 वर्ष तक सामूहिक नेतृत्व में सरकार बेहतर ढंग से चलाकर दिखा देंगे। पार्टी ने चुनावों में किसानों ही नहीं, बल्कि दूसरे वर्गों से भी जो चुनावी वादे किए हैं, उसे भी समयबद्ध ढंग से पूरा करेंगे। उन्होंने नक्सलवाद से संबंधित प्रश्न के उत्तर में कहा कि इस समस्या का चुटकी बजाते हल नहीं हो सकता। इसके लिए भी वे पूरे कदम उठाएंगे।
 
बघेल ने कहा कि सोमवार को आयोजित होने वाले उनके शपथ ग्रहण में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी, लोकसभा में संसदीय दल के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे तथा कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल होंगे। इसके लिए उन्होंने स्वयं बात की है। उनकी स्वीकृति देर शाम तक मिल जाएगी। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मोदी ने की मां गंगा की आराधना, पवित्र अक्षय वट का भी दर्शन किया