Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मुख्यमंत्री केजरीवाल का पंजाब दौरा, बोले- हमारी जिम्मेदारी होगी हर व्यापारी की सुरक्षा

webdunia
शुक्रवार, 29 अक्टूबर 2021 (21:22 IST)
नई दिल्ली। पंजाब दौरे पर आए आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज बठिंडा में व्यापारियों के साथ संवाद किया। 'आप' संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद हर व्यापारी की सुरक्षा की जिम्मेदारी हमारी होगी। दिल्ली की तरह पंजाब में भी हम एक ईमानदार सरकार देंगे और भ्रष्ट नेताओं व अफसरों से मुक्ति दिलवाएंगे। किसी व्यापारी को डरने की जरूरत नहीं होगी, ऐसी व्यवस्था बनाएंगे।

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में हमारी 49 दिन की सरकार में रिश्वतखोरी पूरी तरह से बंद हो गई थी, लेकिन केंद्र से हमसे एंटी करप्शन ब्रांच छीन ली। पंजाब फूल स्टेट हैं। हम पंजाब में इसे लागू कर रिश्वतखोरी को पूरी तरह से बंद करेंगे। ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मुझे पैसा नहीं चाहिए। मैं पंजाब की तरक्की में व्यापारियों को पार्टनर बनाने आया हूं। किसान और व्यापारी पंजाब की अर्थ व्यवस्था और विकास के दो पहिए हैं और हम दोनों को साथ लेकर चलेंगे। मैं केवल एक मौका मांग रहा हूं। मेरा वचन है कि पांच साल बाद पंजाब के सभी व्यापारी आम आदमी पार्टी के मुरीद होंगे।

बठिंडा में आयोजित संवाद कार्यक्रम के दौरान व्यापारियों ने अपने व्यवसाय में आने वाली कठिनाइयों से ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल को रूबरू कराया। साथ ही व्यापारियों ने कई सुझाव भी दिए। ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने व्यापारियों की तरफ से आए सुझावों को नोट किया और आश्वासन दिया कि आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद उनके दिए अच्छे सुझावों पर सरकार अवश्य काम करेगी। साथ ही उन्होंने यह भी वादा किया कि आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद पंजाब में किसी किसान को आत्महत्या करने के लिए मजबूर नहीं होना पड़ेगा।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अभी अपने देश में माहौल है कि जब चुनाव आते हैं, तो पार्टियों को जनता की याद आती है। उन्हें पांच साल जनता की याद आती नहीं है। जब उन्हें जनता की याद आती है, तो वे अपने कमरों में बैठ कर मैन्युफेस्टो बनाते हैं। उन्हें पता ही नहीं चलता है कि जनता को चाहिए क्या? हम भी मैन्युफेस्टो बना सकते थे। जब तक हम आपके बीच में आकर आप से समस्याओं के बारे में नहीं जानेंगे और केवल समस्या ही नहीं, अपने को पंजाब को विकास के मामले में एक अलग स्तर पर लेकर जाना है। वो कैसे लेकर जाना है, यह आप लोग ही बताएंगे।

केजरीवाल ने कहा कि कोरोना बहुत बड़ी महामारी थी। जिसकी वजह से सारे बिजनेस पर असर पड़ा। उसका तो कुछ कर नहीं सकते थे, लेकिन कोरोना महामारी में जो जिम्मेदार और संवेदनशील सरकारें थीं, उन्होंने अपने लोगों के साथ मिलकर लोगों का साथ दिया। दिल्ली के अंदर जिस तरह से 24 घंटे हमने जनता, व्यापारियों और बीमार लोगों का साथ दिया, उसकी तारीफ सारे मुल्कों में हो रही है।

दुर्भाग्यवश जब पंजाब में कोरोना फैला हुआ था, उस समय यहां मुख्यमंत्री की कुर्सी की लड़ाई चल रही थी। उन्हें न व्यापारियों की चिंता थी, न अस्पतालों की चिंता थी, न दवाई की चिंता थी। मैंने अक्सर देखा है कि इस तरह की बैठकों में बड़ी-बड़ी इंडस्ट्री के व्यापार की बात तो होती है, लेकिन छोटे व्यापार की कोई बात नहीं करता है, जबकि छोटे व्यापारी हमारी अर्थ व्यवस्था की रीढ़ की हड्डी हैं।

केजरीवाल ने इंस्पेक्टर राज के मसले पर कहा कि दिल्ली में दो साल पहले दिवाली के समय कई व्यापारी हमारे पास आए। उन्होंने कहा कि आप कहते हैं कि इंस्पेक्टर राज खत्म कर दिया, लेकिन दिवाली के समय इंस्पेक्टर हमारे पास आ रहे हैं। इस पर हमने लिखित आदेश पारित किया कि किसी विभाग का कोई अधिकारी किसी भी दुकान पर दिवाली के समय नहीं जाएगा। उसी आदेश में हमने लिखा कि अगर कोई अधिकारी आपकी दुकान पर आ जाए, तो उसकी फोटो खींच कर दिए गए वाट्सएप नंबर पर भेज देना। उसके बाद दिल्ली में इंस्पेक्टरों ने दिवाली लेना बंद कर दिया।

केजरीवाल ने दो बड़ी घोषणाएं करते हुए कहा कि जो मैं कहता हूं, वह बहुत ही सोच समझकर कहता हूं। पूरी गणना करके कहता हूं। पंजाब में फरवरी में चुनाव है। मार्च में नतीजे आ जाएंगे और हमारी सरकार बनने पर एक अप्रैल के बाद हर व्यापारी की सुरक्षा हमारी जिम्मेदारी होगी। आज मैं यह वादा करके जा रहा हूं कि हमारी सरकार बनने के बाद किसी व्यापारी को डरने की जरूरत नहीं है। ऐसी व्यवस्था बनाएंगे। हर व्यापारी की सुरक्षा हमारी जिम्मेदारी है। किसी व्यापारी को डरने की जरूरत नहीं है। डर-डर कर व्यापार नहीं करना है। खूब तरक्की करो।

केजरीवाल ने कहा कि लुधियाना और जालंधर में जब मैने व्यापारियों से संवाद किया, तो दो बातें निकलकर सामने आईं। पहला, बिजली का पॉवर कट बहुत लग रहा है। हम पॉवर कट बंद करेंगे। दिल्ली में भी बहुत पावर कट लगा करता था। पंजाब में बिजली की कमी नहीं है। पंजाब बिजली पैदा करने वाला राज्य है। लेकिन बिजली फिर भी नहीं आ रही है। दिल्ली में भी बिजली की कोई कमी नहीं थी, लेकिन फिर भी बिजली नहीं आती थी। जब हमारी पहली बार सरकार बनी, तो 7-8 घंटे की बिजली कटौती होती थी। मैं समझता हूं कि दिल्ली में जो दिक्कत थी, वहीं दिक्कत पंजाब में भी होगी। उसका अध्ययन करेंगे।

केजरीवाल ने कहा, मैं समझता हूं कि पंजाब की अर्थव्यवस्था और विकास के दो पहिए हैं। एक पहिया है किसान और मजदूर और दूसरा पहिया है, व्यापारी और उद्योग। यह दोनों पहिए जब तक नहीं चलेंगे, तब तक पंजाब का विकास नहीं हो सकता है। ये दोनों पहिए मजबूत होने चाहिए। इन दोनों पहियों को मिलकर चलने चाहिए। इन दोनों को साथ मिलाकर चलाएंगे। पूरे देश में कहीं पर भी चले जाइए। संवाद कार्यक्रम में ‘आप’ पंजाब प्रभारी एवं सांसद भगवंत मान, सह प्रभारी एवं दिल्ली से विधायक राघव चड्ढा, विधायक जरनैल सिंह समेत कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहे।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

गोवा गरजीं ममता बनर्जी, TMC का अर्थ बताया टेम्पल, मॉस्क और चर्च