Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

दिल्ली CM केजरीवाल ने इस साल दिवाली पर पटाखे न जलाने की अपील की

webdunia
गुरुवार, 5 नवंबर 2020 (17:53 IST)
नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए इस बार दीपावली के पर्व पर पटाखे नहीं जलाने की अपील की है।

मुख्यमंत्री ने कोरोना काल में प्रदूषण को सेहत के लिए काफी खतरनाक बताते हुए दिल्ली के 2 करोड़ लोगों से किसी भी हालत में पटाखे नहीं जलाने की अपील की है।

केजरीवाल ने कहा कि इस बार दीपावली पर हम सभी दिल्लीवासी मिलकर एक साथ लक्ष्मी पूजन करेंगे। मैं अपने सभी मंत्रियों के साथ दीपावली (14 नवंबर) की शाम 7.39 बजे एक स्थान पर लक्ष्मी पूजन करूंगा, जिसका प्रमुख टीवी चैनलों पर सीधा प्रसारण होगा।
ALSO READ: दिल्ली में प्रदूषण पर नकेल कसी, CM केजरीवाल बोले- अब मैन्युफैक्चरिंग इंडस्ट्री खोलने की इजाजत नहीं
केजरीवाल ने इस दौरान सभी लोग अपने घरों में हमारे साथ मिलकर एक ही स्वर में लक्ष्मी पूजन करें। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में प्रदूषण बढ़ रहा है, अगर हम पटाखे जलाते हैं, तो हम अपनी, अपने परिवार और पूरे दिल्ली के लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। 
 
पराली को लेकर नहीं उठाया ठोस कदम : केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि दिल्ली में इस वक्त कोरोना और प्रदूषण दोनों का बड़ा कहर छाया हुआ है। इस स्थिति से निपटने के लिए दिल्ली के लोग और दिल्ली सरकार मिलकर पूरा प्रयास कर रहे हैं।

प्रदूषण की वजह से कोरोना की स्थिति ज्यादा खराब हो रही है। हर साल इन दिनों में प्रदूषण होता है, क्योंकि पराली जलने का धुआं दिल्ली की तरफ आता है। दुख की बात यह है कि पिछले कई सालों से पराली जलने से यह प्रदूषण हो रहा है, लेकिन उन सरकारों ने अपने किसानों के लिए कोई भी ठोस कदम नहीं उठाया।

उन राज्यों के किसानों से मेरी बात हुई और किसानों ने कहा कि हम पराली जलाना नहीं चाहते हैं, पराली जलाने से हमारी जमीन के अंदर बैक्टीरिया खराब हो जाते हैं। बैक्टीरिया जल जाने से हमारी मिट्टी कम उपजाऊ होती है, लेकिन हमारे पास इसका समाधान क्या है? हमारी सरकारों ने हमारे लिए कुछ नहीं किया?
दिल्ली सरकार ने दिया पराली का समाधान : मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि पराली के समाधान के लिए दिल्ली सरकार ने बहुत अच्छा कदम उठाया है। दिल्ली के लोगों और दिल्ली सरकार ने पूसा इंस्टिट्यूट के साथ मिलकर पराली का एक समाधान दिया है कि अब पराली जलाने की जरूरत नहीं है। पूसा इंस्टीट्यूट ने एक केमिकल बनाया है, अगर पराली पर उस केमिकल का छिड़काव कर दें, तो करीब 20 दिन के अंदर पराली खाद में बदल जाती है। किसानों के लिए इससे अच्छी बात और क्या हो सकती है। अब हर सरकार अपने-अपने किसान की वैसी ही मदद करे, जैसे दिल्ली की सरकार ने अपने किसानों की मदद की है। 
 
मिलकर मनाएंगे दिवाली : केजरीवाल ने कहा कि पिछली बार हम लोगों ने दीपावली के समय पटाखे नहीं जलाने की सौगंध खाई थी। दीपावली पर पूरी दिल्ली के लोगों ने मिलकर कनॉट प्लेस के अंदर दीपावली मनाई थी। हम लोगों ने वहां पर लाइट शो रखा था और दिल्ली के सभी लोग कनॉट प्लेस आए थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार भी हम सब लोग मिलकर दीपावली मनाएंगे, लेकिन किसी भी हालत में पटाखे नहीं जलाएंगे। अगर हम पटाखे जलाएंगे, तो अपने ही बच्चों, परिवार और दिल्ली के परिवारों की जिंदगी के साथ खेल रहे हैं। इस बार पटाखे नहीं जलाएंगे और दीपावली एक साथ मिलकर मनाएंगे। 
14 नवंबर को शाम 7 बजकर 39 मिनट पर हम दिल्ली के 2 करोड़ लोग मिलकर लक्ष्मी पूजन करेंगे। मैं दिल्ली में एक जगह अपने सभी मंत्रियों के साथ शाम 7.39 बजे लक्ष्मी पूजन शुरू करूंगा। इसका कुछ टीवी चैनल सीधा प्रसारण करेंगे। 
 
केजरीवाल ने दिल्ली के सभी 2 करोड़ लोगों से अपील करते हुए कहा कि आप सब लोग उस वक्त अपना टीवी ऑन कर अपने घरों में, अपने परिवार के साथ मिल-बैठकर पूजन करें। उन्होंने कहा कि मैं समझता हूं कि जब दिल्ली के 2 करोड़ लोग मिलकर एक साथ दीपावली का पूजन करेंगे तो पूरी दिल्ली के अंदर एक अद्भुद माहौल होगा, पूरी दिल्ली के अंदर एक बहुत अच्छी तरंगे होंगी।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

PhD होल्डर आतंकवादी, हिज्बुल मुजाहिदीन के नए सरगना का संबंध भोपाल से भी