राजस्थान के धौलपुर में मुठभेड़, 2 बदमाशों की मौत

शनिवार, 31 अगस्त 2019 (17:03 IST)
धौलपुर। राजस्थान के भरतपुर संभाग में धौलपुर के बसई डांग थाना क्षेत्र में शुक्रवार देर शाम बजरी माफिया एवं पुलिस मुठभेड़ में गंभीर रूप से घायल के दम तोड़ देने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 2 हो गई है। इस मुठभेड़ में गोली लगने से बजरी माफिया मोरोली निवासी सेवक नामक युवक की मौके पर ही मौत हो गई थी। गंभीर रूप से घायल भोलू गुर्जर ने धौलपुर से जयपुर ले जाते समय शुक्रवार देर रात दम तोड़ दिया। मुठभेड़ में पुलिस के 2 जवानों सहित 7 लोग घायल हो गए थे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, मुठभेड़ में गंभीर रूप से घायल भोलू गुर्जर ने धौलपुर से जयपुर ले जाते समय शुक्रवार देर रात दम तोड़ दिया। पुलिस ने भोलू गुर्जर को बजरी माफिया बताया है। गौरतलब है कि इस मुठभेड़ में गोली लगने से बजरी माफिया मोरोली निवासी सेवक नामक युवक की मौके पर ही मौत हो गई थी। मुठभेड़ में पुलिस के 2 जवानों सहित 7 लोग घायल हो गए थे।
ALSO READ: सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में 3 महिला समेत 7 नक्सली ढेर
इसके बाद तनाव के हालात उत्पन्न हो गए और इसके मद्देनजर भरतपुर रेंज आईजी लक्ष्मण गौड़ भी धौलपुर पहुंचे। पुलिस कांस्टेबल ईश्वरी सिंह के पैर में गोली लगी है। पुलिसकर्मी रूपेन्द्र सिंह के पैर में फ्रेक्चर आया है। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इलाके में तनाव को देखते हुए भारी संख्या में पुलिसबल तैनात किया गया है।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र वर्मा के अनुसार, बसई डांग के वन विहार क्षेत्र में चंबल की रेत से भरे अवैध ट्रेक्टर-ट्रॉली निकलने की सूचना एसएचओ हीरालाल मीणा को मिलने के बाद क्यूआरटी टीम को लेकर एसएचओ उन्हें पकड़ने जा रहा था।

बताया गया है कि माफियाओं ने पुलिस की गाड़ी को आगे से टक्कर मार क्षतिग्रस्त कर दिया और पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। घटना के बाद बड़ी संख्या में चिकित्सालय में गुर्जर समाज के लोग एकत्रित होने से तनाव की स्थिति पैदा हो गई। पुलिस ने स्थिति नियंत्रण में बताई है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख रात में करते हैं पढ़ाई तो अपनाएं ये टिप्स, नहीं आएगी नींद