Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

राजस्थान में फिर सुलगी Gurjar Aandolan की आग, दिल्ली-मुंबई के बीच करीब डेढ़ दर्जन ट्रेनों पर पड़ा असर

webdunia
सोमवार, 2 नवंबर 2020 (10:48 IST)
जयपुर। राजस्थान में एक बार फिर आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जरों का आंदोलन (Gurjar Agitation) शुरू हो चुका है। राजस्थान के कोटा में गुर्जर आंदोलन के चलते दिल्ली-मुंबई के बीच करीब डेढ़ दर्जन ट्रेनों पर असर पड़ा है। गुर्जर एक बार फिर सरकार से 5 प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं।
ALSO READ: राजस्थान में गुर्जर आरक्षण आंदोलन तेज, पीलूपुरा में जुटे गुर्जर
रविवार को प्रदर्शनकारियों ने आंदोलन के दौरान रेल ट्रैक को भी जाम कर दिया। इसके चलते कई ट्रेनों के मार्ग में बदलाव करना पड़ा। अपनी मांगों को लेकर कुछ प्रदर्शनकारी रेल की पटरी पर लेट गए। आंदोलनकारियों की जिद है कि जब तक सरकार उनकी मांगों को पूरा नहीं करती, वे रेल ट्रेक से नहीं उठेंगे। इस आंदोलन के चलते कई ट्रेनों पर प्रभाव पड़ा है। राजस्थान के युवा व खेल मंत्री अशोक चांदना गुर्जर नेता किरोड़ी सिंह बैंसला से मिलने रविवार रात हिंडौन पहुंचे, हालांकि उनकी मुलाकात नहीं हो सकी।
 
इन ट्रेनों के बदले गए रूट्‍स-
 
ट्रेन नंबर 02925 बांद्रा टर्मिनस-अमृतसर स्पेशल ट्रेन जेसीओ को नागदा-संत हिरदाराम नगर-बीना-झांसी-मथुरा के रास्ते डायवर्ट किया जाएगा।
 
ट्रेन नंबर 02951 मुंबई सेंट्रल-नई दिल्ली स्पेशल ट्रेन जेसीओ को नागदा-संत हिरदाराम नगर-बीना-झांसी-मथुरा के रास्ते चलाया जाएगा।
 
ट्रेन नंबर 02953 मुंबई सेंट्रल-हज़रत निज़ामुद्दीन स्पेशल ट्रेन जेसीओ को नागदा-संत हिरदाराम नगर-बीना-झांसी-मथुरा के रास्ते डायवर्ट किया गया।
 
ट्रेन नंबर 09040 मुजफ्फरपुर-बांद्रा टर्मिनस स्पेशल ट्रेन जेसीओ को आगरा फोर्ट-भरतपुर-बांदीकुई-जयपुर-सवाई माधोपुर के माध्यम से डायवर्ट किया गया।
 
ट्रेन नंबर 02904 अमृतसर-मुंबई सेंट्रल स्पेशल ट्रेन जेसीओ को मथुरा-झांसी-बीना-संत हिरदाराम नगर-नागदा के रास्ते चलाया गया।
 
ट्रेन नंबर 09042 गाजीपुर सिटी-बांद्रा टर्मिनस जेसीओ को भरतपुर-बांदीकुई-जयपुर-सवाई माधोपुर के रास्ते डायवर्ट किया गया।
 
ट्रेन नंबर 00949 ओखा-गुवाहाटी पार्सल स्पेशल ट्रेन जेसीओ को सवाई माधोपुर-जयपुर-बांदीकुई-भरतपुर-आगरा फोर्ट के रास्ते डायवर्ट किया गया। (वार्ता)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

अच्छी खबर, देश में रिकवरी रेट 91 प्रतिशत के पार, अब तक 75 लाख से ज्यादा लोग कोरोना से ठीक