Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Rain In Rajasthan: जोधपुर में भारी बारिश से स्कूल बंद व ट्रेनें रद्द, लोहावट में हुई साढ़े 5 इंच वर्षा

हमें फॉलो करें webdunia
गुरुवार, 28 जुलाई 2022 (12:12 IST)
जयपुर। राजस्‍थान में जोरदार वर्षा का दौर जारी है। यहां के जोधपुर संभाग में घनघोर बारिश जारी है, जहां लोहावट में सर्वाधिक 135 मिमी (करीब साढ़े 5 इंच) वर्षा दर्ज की गई। लगातार बारिश से जोधपुर शहर व उसके आसपास के क्षेत्र में जनजीवन प्रभावित हुआ, स्‍कूल बंद हैं और अनेक ट्रेनें भी रद्द की गई हैं।
 
मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों में बारिश की गतिविधियां कम होने से लोगों को राहत मिल सकती है। गुरुवार सुबह 8.30 बजे तक जोधपुर शहर में 73.1 मिमी बारिश दर्ज की गई। इस दौरान राज्‍य में सबसे अधिक 135 मिमी बारिश जोधपुर के लोहावट में हुई। जोधपुर संभाग के ही भोपालगढ़ तथा फलोदी में 66 मिमी बारिश दर्ज की गई है। इनके अलावा जोधपुर संभाग के अन्य क्षेत्रों में मध्यम बारिश हुई।

webdunia
 
विभाग के अनुसार गुरुवार से जोधपुर में बारिश की गतिविधियों में कमी आएगी, हालांकि इस दौरान कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश हो सकती है। 29-30 जुलाई को जोधपुर में आंशिक रूप से बादल छाए रहने व मौसम के मुख्यत: शुष्क बने रहने की संभावना है।
 
राजधानी जयपुर व उसके आसपास के इलाकों में पिछले 24 घंटे में अच्‍छी-खासी बारिश हुई। इस दौरान जयपुर के फुलेरां में 9 सेंटीमीटर, अलवर के रामगढ़ में 8 सेंटीमीटर, जयपुर के सांगानेर में 6 सेंटीमीटर बारिश हुई। जैसलमेर, बीकानेर, नागौर, सिरोही, अजमेर तथा भरतपुर जिलों में भी हल्‍की से मध्‍यम दर्ज की बारिश दर्ज की गई। लगातार बारिश से अनेक जगह जनजीवन प्रभावित हुआ है। अनेक सड़कें व रेल पटरियां जलमग्न हो गई हैं।
जोधपुर संभाग में भारी बारिश के कारण रेल पटरियों पर जलभराव को देखते हुए उत्तर-पश्चिम रेलवे ने बुधवार को 12 ट्रेनें पूरी तरह रद्द की थीं, जबकि 6 को आंशिक रूप से रद्द किया गया था, वहीं 7 ट्रेनों के मार्ग में परिवर्तन किया गया था। जोधपुर जिले में सभी राजकीय और निजी विद्यालय 26 से 28 जुलाई तक बंद हैं।(भाषा)
(फ़ाइल चित्र)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

राष्‍ट्रपति के अपमान पर फंसी कांग्रेस, अधीर रंजन चौधरी ने मानी गलती