Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मुंबई में मूसलधार, अगले 24 घंटों में भारी बारिश की चेतावनी, कई जगह पेड़ गिरे

हमें फॉलो करें webdunia
शुक्रवार, 1 जुलाई 2022 (21:08 IST)
मुंबई। लगातार हो रही बारिश से मुंबईकरों की मुसीबत बढ़ गई है। शहर के कई इलाकों में पानी भर गया है, जबकि 2 दर्जन से ज्यादा पेड़ गिर गए हैं। भारी बारिश का ट्रैफिक पर भी असर देखने को मिला है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने मुंबई शहर और उसके उपनगरीय इलाकों में मध्यम से लेकर भारी बारिश की संभावना जताई है।
 
मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के दौरान मुंबई के अलग-अलग स्थानों पर बहुत भारी से अत्यधिक भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक मुंबई में बीते 24 घंटे की अवधि के दौरान 179.13 मिलीमीटर बारिश हुई, इसके बाद शहर के पश्चिमी उपनगरों में 140.58 मिलीमीटर जबकि पूर्वी उपनगरों में 109.06 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई।
 
अधिकारियों के मुताबिक बृहस्पतिवार रात शहर और उपनगरों के कई निचले इलाकों में जलभराव के कारण बुरी तरह प्रभावित हुईं उपनगरीय ट्रेन सेवाओं का संचालन लगभग सामान्य हो गया है।
webdunia
इन स्थानों पर हुई भारी बारिश : बृहन्मुंबई महानगर पालिका (BMC) जी-नॉर्थ वार्ड में सबसे अधिक 238 मिमी बारिश हुई। इस जी-नॉर्थ वार्ड में दादर, धारावी, माहिम और माटुंगा शामिल हैं। एक अधिकारी के मुताबिक वर्ली और लोअर परेल वाले जी-साउथ वार्ड में 208 मिमी बारिश हुई।
 
आईएमडी के मुंबई स्थित कार्यालय ने शहर और उपनगरों में मध्यम से लेकर भारी बारिश की संभावना जताई है। इसके अलावा अगले 24 घंटों के लिए अलग-अलग स्थानों पर बहुत भारी से बेहद भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। 
 
ट्रेनें निर्धारित समय पर : मध्य रेलवे ने दावा किया है कि उपनगरीय ट्रेन सेवाएं निर्धारित समय के अनुसार चल रही थीं। मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने कहा कि सीएसएमटी-ठाणे और सीएसएमटी-वाशी खंडों के बीच बारिश के बावजूद कहीं भी पटरियों पर जलभराव नहीं हुआ और ट्रेनें अपने निर्धारित समय पर चल रही हैं।
webdunia
हाजी अली क्षेत्र में भूस्खलन : मुंबई में हाजी अली क्षेत्र के करीब एक निर्माणाधीन भवन के पास बृहस्पतिवार एवं शुक्रवार की दरम्यानी रात को भूस्खलन हुआ, लेकिन जान-माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है। बीएमसी अधिकारी ने बताया कि पैडर मार्ग के समीप यह घटना घटी तथा एक पहाड़ी के पास बने फुटपाथ में दरार आ गई। अधिकारी ने कहा कि संरचनागत परामर्शदाता एवं भूगर्भविज्ञानी को घटनास्थल का निरीक्षण के लिए बुलाया गया है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

क्या अब भी नाराज हैं फडणवीस? भाजपा मुख्यालय के जश्न से बनाई दूरी